पटना. बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी की नेता राबड़ी देवी ने शनिवार को बीजेपी पर बड़ा आरोप लगाते हुए कहा है  कि भाजपा सरकार उनके पति और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के मुखिया लालू प्रसाद यादव को जहर देकर मारने की साजिश रच रही है. चारा घोटाला मामले में आरोपी लालू यादव इन दिनों रांची के रिम्स अस्पताल में अपना इलाज करा रहे हैं. ऐसे में लालू यादव को सप्ताह में शनिवार को तीन लोगों से मिलने की अनुमति मिली हुई है. लेकिन इजाजत होने के बाद भी बिरसा मुंडा जेल प्रशासन ने कानून व्यवस्था की समस्या को आधार बनाकर लालू यादव से तीन लोगों से मिलने पर रोक लगा दी है. इसके तहत राबड़ी देवी ने भाजपा को आड़े हाथों लेते हुए यह संगीन आरोप लगाया है.

गौरतल है कि राबड़ी देवी ने झारखंड की बीजेपी सरकार पर हमला बोलते हुए ट्वीट कर यह बताया कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार लालू यादव को जहर देकर मारना चाहती है. परिवार के किसी भी सदस्य को महीनों से उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा है. भारत सरकार पगला गया है. नियमों को दरकिनार कर उपचाराधीन लालू जी के साथ तानाशाही सलूक किया जा रहा है. इसके साथ ही राबड़ी देवी ने भाजपा सरकार को खुली चेतावनी देते कहा है कि अगर लालू प्रसाद यादव के साथ कुछ भी गलत होता है, तो बिहार की जनता सड़क पर उतर आयेगी और इसका अंजाम बहुत बुरा होगा.

इसके अलावा राबड़ी देवी ने यह भी बताया कि शनिवार को उनके छोटे बेटे तेजस्वी यादव अपने पिता लालू यादव से मिलने रांची के रिम्स अस्पताल गए गए थे. लेकिन बिरसा मुंडा जेल प्रशासन ने तेजस्वी यादव को लालू यादव से मिलने से रोक दिया और ऐसी स्थिति में तेजस्वी यादव अपने बीमार पिता का हाल चाल पूछे बिना ही वापस लौट गए थे.

राबड़ी देवी यहीं नहीं रुकीं और भाजपा पर आरोपों का वार करते हुए यह भी कहा कि भाजपा के लोग बहुत बुरे हैं और वह लालू प्रसाद यादव को जान से मारने की साजिश का षंडयंत्र रच रहे हैं. बीजेपी लालू यादव को गंभीर नुकसान पहुंचाना चाहती है. साथ ही उन्होंने यह बताया कि रांची के रिम्स अस्पताल में उनके पति लालू यादव की जान को बड़ा खतरा है.

Lalu Yadav Attacks Narendra Modi: 15 लाख और अच्छे दिन पर आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव ने पीएम नरेंद्र मोदी पर डबस्मैश वीडियो से कसा तंज

Rabri Devi Urges Tej Pratap: अपनी ही पार्टी आरजेडी के खिलाफ बगावत पर उतरे तेज प्रताप यादव से मां राबड़ी देवी की अपील, बहुत हुआ बेटा अब घर लौट आओ