July 20, 2024
  • होम
  • IND vs AUS: जानिए कैसे पड़ा बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का नाम, क्या है इसके पीछे का इतिहास

IND vs AUS: जानिए कैसे पड़ा बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी का नाम, क्या है इसके पीछे का इतिहास

नई दिल्ली। ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम भारत का दौरा करने वाली है। टीम इंडिया की मेजबानी में दोनों देशों के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जानी है। ये सीरीज 9 फरवरी से 13 मार्च तक खेला जाएगा। भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच होने वाले इस टेस्ट सीरीज को बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी कहते हैं। आइए जानते हैं कि इसका नाम बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी कैसे पड़ा।

टेस्ट की नंबर 1 और 2 टीम के बीच जंग

9 फरवरी से टेस्ट की नंबर 1 और 2 टीम के बीच खिताबी जंग होने वाली है। दरअसल ऑस्ट्रेलिया इस समय दुनिया की नंबर 1 टेस्ट टीम है वहीं भारत इस फॉर्मेट की नंबर 2 टीम है। अब दोनों टीमों के बीच 4 मैचों की टेस्ट सीरीज खेली जाएगी।

इस तरह पड़ा बॉर्डर-गावस्कर नाम

बता दें कि भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच साल 1947-48 से 1991-92 के बीच कुल 12 टेस्ट सीरीज खेली गई है। इन टेस्ट सीरीज में कुल 50 मुकाबले शामिल थे। फिर इसके बाद दोनों टीमों के बीच खेले जाने वाले टेस्ट सीरीज का नामकरण कर दिया गया है। इसका नामकरण भारत और ऑस्ट्रेलिया के दो दिग्गज खिलाड़ियों के नाम पर सुनिल गावस्कर और एलन बॉर्डर के नाम पर रख दिया गया। इसके बाद इस सीरीज का नाम बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी रख दिया गया।

भारत ने जीती लगातार 3 सीरीज

गौरतलब है कि बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी का पहला एडिशन साल 1996-97 में खेला गया था। इस समय इस श्रृंखला का डिफेंडिग चैंपियन भारत है। दरअसल साल 2020-21 में भारत ने ऑस्ट्रेलिया का दौरा किया था और उस समय टीम इंडिया ने लगातार तीसरी बार इस ट्रॉफी को अपने नाम किया था।

IND vs AUS: न्यूजीलैंड के बाद अब ऑस्ट्रेलिया से भिड़ेगा भारत, जानिए पूरा शेड्यूल

IND vs AUS: गिल नहीं ये खिलाड़ी बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी में कप्तान रोहित का बनेगा ओपनिंग पार्टनर

Tags

विज्ञापन

शॉर्ट वीडियो

विज्ञापन