नई दिल्ली : गणतंत्र दिवस पर किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई हिंसा के बाद पुलिस जबरदस्त एक्शन में आ गई है. जिसके चलते उन्होंने दिल्ली की सीमाओं पर कड़े इंतजाम किए हुए हैं. अधिकारी अस्थायी दीवार बना रहे हैं, बड़ी-बड़ी कीलें सड़कों पर गाड़ रहे हैं और कांटेदार बाड़ लगा रहे हैं. वहीं अधिकारियों ने कानून एवं व्यवस्था का हवाला देकर अपने इस कदम का बचाव किया है. लेकिन अब दिल्ली पुलिस किसानों के सामने नरम पड़ गई है और बैरिकेडिंग के आगे लगाईं कीलें दिल्ली पुलिस हटवा रही है.

दरअसल, दिल्ली हिंसा के बाद सिंघू बॉर्डर, गाजीपुर बॉर्डर, और टीकरी बॉर्डर पर पुलिस बल भारी संख्या में तैनात कर दिया गया है. साथ ही सुरक्षा के कड़े इंतजाम करते हुए बॉर्डरों पर लोहे की कीलें, भारी बैरिकेटिंग, लोहे के तार और विभिन्न पाबंदियां लगाई गई हैं. जिसके चलते आम लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. वहीं अब गाजीपुर बॉर्डर से डाबर की तरफ आने वाली रोड पर बैरिकेडिंग के आगे लगाईं कीलें दिल्ली पुलिस हटवा रही है. दिल्ली के गाजीपुर बॉर्डर पर बैरिकेड्स के पास सड़क पर जो कीले लगी थी, उन्हें अब उखाड़ जा रहा है.

बता दें कि कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की अलग-अलग सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी है. वहीं बुधवार को किसानों ने जींद महापंचयात में भी तीनों कृषि कानूनों की वापसी की मांग उठाई है. गौरतलब है कि किसान आंदोलन को चलते हुए 65 दिन से ज्यादा का समय हो गया है. लेकिन, सरकार और किसानों के बीच अभी तक गतिरोध जारी है. हालांकि कई बार सरकार ने किसानों को राजी करने के लिए अलग-अलग सुझाव दिए हैं लेकिन किसान कानूनों को रद्द कराने की मांग पर अटल हैं.

Farmer Protest Updates: रुड़की में किसानों ने BJP के विरोध में लगाए पोस्टर, गांव में भाजपा नेताओं के प्रवेश पर लगाई रोक

Kissan Andolan Latest Update : जींद की महापंचायत ने दी केंद्र सरकार को चुनौती, कहा- तीनों कृषि कानून वापस ले सरकार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर