नई दिल्ली : आज पूरे देश में लोहड़ी का पर्व बड़ी धूमधाम से मनाया जा रहा है. एक तरफ लोग इको फ्रेंडली लोहड़ी मना रहे हैं तो वहीं आज देश की राजधानी नई दिल्ली की सड़को पर किसान कृषि कानूनों की प्रतियां जलाकर लोहड़ी मनाएंगे. दरअसल, पिछले 50 दिनों से दिल्ली की सीमाओं पर तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन जारी है. इस बीच आज यानी बुधवार को लोहड़ी के मौके पर किसानों ने अनोखे तरीके से लोहड़ी मनाने का ऐलान किया है.

किसान नेता मंजीत सिंह राय ने बताया कि सभी प्रदर्शन स्थलों पर आज शाम कृषि कानूनों की प्रतियां जलाकर वे लोहड़ी मनाएंगे. प्रदर्शन कर रहे 40 किसान संगठनों का शीर्ष संगठन संयुक्त किसान मोर्चा आज दिन में आगे की रणनीति तय करने के लिए बैठक भी करेगा. किसान संगठनों ने कल कहा था कि वे उच्चतम न्यायालय की तरफ से गठित समिति के समक्ष पेश नहीं होंगे और आरोप लगाया है कि यह सरकार समर्थक समिति है.

किसान संगठनों ने कहा कि उन्हें तीनों कृषि कानूनों को वापस लिए जाने से कम कुछ भी मंजूर नहीं है. उन्होंने तीन कृषि कानूनों के अमल पर रोक लगाए जाने के उच्चतम न्यायालय के आदेश का स्वागत किया है लेकिन समिति के सदस्यों की निष्पक्षता पर भी संदेह जताया है और उन्हें सरकार के लोग कहकर बुलाया है.

बता दें कि केंद्र सरकार और किसानों बीच चल रहे गतिरोध को रोकने के लिए मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में किसानों से जुड़े सभी मुद्दों पर सुनवाई हुई और सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए अगले आदेश तक तीनों कानूनों के अमल पर रोक लगा दी और चार सदस्यीय समिती का गठन कर दिया. हालांकि सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद भी किसानों का रूख बदला नहीं है और वो अभी भी कानूनों की वापसी की मांग पर डटे हुए हैं.

Kisan Andolan Update : कृषि कानूनों पर सुप्रीम कोर्ट बड़ा फैसला, तीनों कानूनों के अमल पर लगाई रोक

Kisan Andolan Update: कृषि कानूनों पर सुप्रीम कोर्ट का एक्शन, कहा- केंद्र सरकार कानून पर रोक लगाएं नहीं तो हम लगा देंगे

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर