नई दिल्ली : केंद्र सरकार के बनाए गए कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन आज चरम पर पहुंच गया है. दिल्ली पुलिस से इजाजत मिलने के बाद आज गणतंत्र दिवस पर तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ किसान दिल्ली में ‘ट्रैक्टर परेड’ निकाल रहे हैं. एक तरफ जहां जनपथ पर गणतंत्र दिवस समारोह का समापन हुआ वहीं दुसरी तरफ उससे पहले ही किसानों ने दिल्ली के कई बॉर्डर पर पुलिस के बैरिकेड्स तोड़कर दिल्ली की सीमाओं में दाखिल होना शुरू कर दिया है. लेकिन हालात कुछ बेकाबू होते दिखे जब दिल्ली पुलिस ने किसानों पर लाठी चार्ज किया और आंसू गैस के गोले दागे.

दरअसल, सिंघु, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों ने दिल्ली पुलिस द्वारा लगाए गए बैरिकेड्स तोड़ दिए और दिल्ली में दाखिल हो गए हैं. बेकाबू होते हुए किसानों को रोकने के लिए पुलिस द्वार किसानों पर संजय गांधी ट्रांसपोर्ट नगर में आंसू गैस छोड़ी गई वहीं गाजीपुर में लाठीचार्ज किया गया.

वहीं अब कुछ किसानों को कहना है कि वो संसद भवन और लाल किले तक परेज निकालेंगे. लेकिन इससे पहले सिंघु बॉर्डर के साथ टीकरी और यूपी बॉर्डर पर भी किसानों ने तय समय से पहले ट्रैक्टर परेड शुरू कर दी जिसके चलते पुलिस और किसानों के बीच कई जगहों पर झड़प देखने को मिली. इसके अलावा मंगलवार की सुबह कई पुलिसवालों को पीटते हुए मुकरबा चौक से किसान आगे बढ़े. इसके बाद कुछ किसान आपस में ही भिड़ गए, जिसके बाद हालात काबू करने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े हैं.

बता दें कि तीनों केंद्रीय कृषि कानूनों को रद्द कराने की मांग को लेकर दिल्ली-हरियाणा के सिंघु बॉर्डर पर चल रहा किसानों का धरना प्रदर्शन मंगलवार को 62वें दिन में प्रवेश कर गया है. किसान लगातर अपनी मांग पर अड़े हुए हैं.

Kisan Andolan Tractor Rally Route: किसानों की ट्रैक्टर रैली को दिल्ली पुलिस की मंजरी, सिंघु, टिकरी और गाजीपुर बॉर्डर पर निकाल सकेंगे परेड

Republic Day 2021: देश ने मनाया 72वां गणतंत्र दिवस, राजपथ पर निकाली गई शानदार झांकी, पहली बार देखी गई राम मंदिर की झलक

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर