जम्मू. कठुआ में 8 साल की बच्ची से रेप और हत्या के मामले के मुख्य आरोपी सांजी राम के परिवार ने उसे निर्दोष बताया है. इस दौरान परिवार ने मामले की सीबीआई जांच की मांग करते हुए कहा कि अगर सांजी राम जांच में दोषी पाए जाए तो परिवार को सामूहिक फांसी दे दी जाए. पिछले 15 दिनों से सीबीआई जांच की मांग को लेकर अनशन कर रहीं 16 महिलाओं को अस्पताल में भर्ती कराया गया.

आरोपी की बेटी ने कहा कि मेरे पिता (सांजी राम) और भाई (विशाल) को दोषी पाए जाने पर फांसी पर लटका दिया जाना चाहिए. सांजी राम की छोटी बेटी ने भी क्राइम ब्रांच की चार्जशीट पर सवाल उठाते हुए कहा कि कैसे एक पिता अपने बेटे को एक नाबालिग लड़की का बलात्कार करने के लिए कहेगा जैसा कि चार्जशीट में दावा किया जा रहा है.

वहीं बच्ची से गैंगरेप और हत्या के आरोपी दीपक खजुरिया और कुछ पुलिस वालों को बर्खास्त कर दिया गया. दीपक खजुरिया की मंगेतर रेणु शर्मा ने मीडिया के सामने आकर कहा कि वो दीपक से मिलकर उसकी आंखों में देखकर ये पूछना चाहती हैं कि क्या उसने ये अपराध किया है. इस दौरान रेणु ने कहा कि अगर वो दोषी हुआ तो वो उससे शादी नहीं करेगी. बता दें, पुलिस कर्मी दीपक खुजरिया और रेणु शर्मा की सात दिसंबर सगाई हुई थी और उनकी 26 अप्रैल को शादी होने वाली है.

VIDEO: कठुआ रेप केस को लेकर भड़के विराट- बोले, मुझे शर्म आती है कि मैं ऐसी सोसाइटी का हिस्सा हूं

कठुआ गैंगरेप पीड़िता को दफनाने के लिए गांववालों ने नहीं दी जमीन, 8 किमी दूर दफनाया गया बच्ची का शव

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App