बेंगलुरु. कर्नाटक में विधान चुनावों को लेकर कांग्रेस और बीजेपी ने उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की हैं. चुनाव में टिकट नहीं मिलने से नाराज नेताओं की नाराजगी की दौर नहीं थम रहा है. कांग्रेस ने कर्नाटक विधानसभा चुनावों के लिए 218 कैंडिडेट् की लिस्ट जारी की. जिसके बाद पार्टी में हंगामा शुरू हो गया. कांग्रेस पार्टी के अपनों ने ही बगावत शुरु कर इस्तीफा देने की चेतावनी तक दे दी थीं. लेकिन अब बीजेपी के एक नेता का टिकट नहीं मिलने पर रोने का मामला सामने आया है.

कर्नाटक के गुलबर्ग में टिकट न मिलने पर बीजेपी नेता शशील नामोशी प्रेस कॉन्फ्रेंस में मीडिया के सामने फूट-फूटकर रो पड़े. बता दें कि नामोशी को उम्मीद थी कि बीजेपी की दूसरी लिस्ट में उन्हें टिकट मिल जाएगी, लेकिन ऐसा नहीं हुआ. बीजेपी से टिकट न मिलने से दुखी नामोशी कलबुर्गी में कैमरे के सामने ही फूट-फूटकर रो पड़े. इस दौरान शशील नामोशी ने कहा कि मैं लंबे समय से पार्टी के लिए काम कर रहा था, जब मुझे पता चला कि लिस्ट में मेरा नाम नहीं है तो मुझे वाकई हैरानी हुई.

बता दें कि कांग्रेस ने 15 अप्रैल को 218 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की थी जिसके बाद कई नेता नाखुश दिखाई दे रहे हैं. पार्टी के वरिष्ठ नेता के. रहमान खान ने भी टिकट वितरण को लेकर सवाल उठाते हुए कहा कि इसका कांग्रेस को नुकसान उठाना पड़ सकता है. वहीं कांग्रेस से नाराज पार्टी कार्यकर्ताओं ने टिकट बंटवारे में धांधली का आरोप लगाया है. सोमवार को कांग्रेसियों का गुस्सा फूट पड़ा. मंड्या में तो कार्यकर्ता सड़कों पर उतर आए और हंगामा करने लगे. इस पर भी उनका मन नहीं भरा तो उन्होंने पार्टी दफ्तर में जमकर तोड़फोड़ की.

कर्नाटक विधानसभा चुनाव 2018: कांग्रेस ने जारी की 218 उम्मीदवारों की पहली लिस्ट, 14 मौजूदा विधायकों का टिकट काटा

यूपीः BJP सांसद भरत सिंह का दावा, सरकार को बदनाम करने के लिए पैसे लेकर ईसाई मिशनरियां तोड़ रहीं अंबेडकर की मूर्तियां

 

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App