बेंगलुरु: काफी खींचतान के बाद कर्नाटक में कांग्रेस और जेडीएस के बीच सीट बंटवारे का फॉर्मूला तय हो गया है. दोनों पार्टी के बीच 20-8 के अनुपात में सीट बंटवारे पर सहमति बन गई है जिसमें बड़ा हिस्सा कांग्रेस को मिला है. जेडीएस को जो सीटें मिली है उनमें शिमोगा, तुमकुर, हसन, मांड्या, बेंगलुरु नॉर्थ, उत्तरा कंन्नडा, चिकमंगलूर और विजायापुरा हैं.

ये घोषणा उस वक्त हुई है जब एच डी देवेगौड़ा ने बयान दिया कि अभी तक तय नहीं हो पाया है कि कांग्रेस और जेडीएस के बीच कितनी सीटों पर सीट बंटवारे को लेकर सहमति बनेगी. दोनों पार्टियों के बीच मैसूर-कोडागू सीट को लेकर तनातनी चल रही थी जो अंत में कांग्रेस के ही पास गई. साउथ में दोनों ही पार्टियां मजबूत हैं और जितने की ज्यादा संभावनाएं रखती हैं.

हसन और मांड्या सीट पर जेडीएस की पकड़ मजबूत है. खबर है कि जेडीएस इन दोनों सीटों पर देवगौड़ा के दोनों पोते प्रज्वल और निखिल को चुनाव लड़ाने की तैयारी कर रहे हैं. वहीं शिमोंगा सीट से बी एस येदियुरप्पा चुनाव लड़ते हैं जो उन्होंने पिछले साल विधानसभा चुनाव लड़ने के लिए छोड़ी थी. साल 2014 की बात करें तो बीजेपी ने यहां 17 सीटों पर जीत दर्ज की थी. वहीं कांग्रेस ने 9 और जेडीएस को 2 सीटें मिली थी. लेकिन वोट शेयर का 43 फीसदी बीजेपी को गया था जबकि कांग्रेस और जेडीएस का संयुक्त तौर पर वोट शेयर करीब 52 फीसदी था.

Bihar Mahagathbandhan Seat Sharing: बिहार में महागठबंधन के बीच सीटों का बंटवारा टला, सीट शेयरिंग को लेकर किचकिच जारी

Congress Second List: लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस ने जारी की 21 उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट, मुरादाबाद से राज बब्बर को तो मुंबई नॉर्थ-सेंट्रल से प्रिया दत्त को टिकट

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App