कानपुर: Uttar pardesh Kanpur पिछले दिनों पत्नी, बेटे, बेटी की हत्या कर आत्महत्या करने वाले प्रोफेसर का शव आखिरकार गंगा बैराज के अटल घाट से बरामद कर लिया गया है। शव से मिले दस्तावेजों आधार कार्ड, मोबाइल, पैन कार्ड आदि के आधार पर उनकी पहचान की जा सकी।

डिप्रेशन में आकर की हत्या और आत्महत्या

3 दिसंबर 2021 को इंदिरानगर के दिव्यांश होम्स में रहने प्रोफेसर सुशील ने मानसिक दवाब में कोरोना के कारण हत्या और आत्महत्या को जैसे जघन्य कांड को अंजाम दिया । पहले बेटे और बेटी का गला दबा कर हत्या की फिर पत्नी को हथौड़े से पीट कर हत्या कर दी थी।

पत्नी शिक्षिका और खुद पेशे से डॉक्टर

कानपुर के रामा मेडिकल कॉलेज के फॉरेंसिक मेडिसिन विभाग में विभागाध्यक्ष के रूप में काम करने वाले डॉक्टर बेटे शिखर और बेटी खुशी के साथ साथ शिक्षिका पत्नी चंद्रप्रभा के साथ रहते थे।

नहीं मिली कोई फुटेज,पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद होगा खुलासा

कानपुर पुलिस की 5 टीम लगातार हत्यारोपी डॉक्टर की तलाश में यहां वहां भटक रही थी यहां तक कि पुलिस फतेहपुर तक पहुंच चुकी थी लेकिन डॉक्टर का शव अटल बैराज में मिलने के बाद फुटेज को खोजा गया जो कहीं नही मिली। जिसके बाद डीसीपी वेस्ट ने बात करते हुए बताया कि शव देखने में ही पुराना लगता है इसलिए कुछ भी कहना जल्दबाजी होगी । शव का पोस्टमार्टम के बाद कुछ खुलासा हो सकता है.

यह भी पढ़े :

वसीम रिजवी को जूता मारने वाले को देंगे 11 लाख – वकी रशीद

Pro Tennis League Season 3 प्रो-टेनिस लीग 2021 खिलाड़ियों की नीलामी में 8 फ्रेंचाइजी ने 40 खिलाड़ियों को खरीदा

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर