Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 

 Green Tea पीने के फायदे जानकर, आज से पीना कर देंगे शुरू

0
Green tea benefits: ग्रीन टी (Green tea) से होने वालों फायदों को लेकर तमाम दावे किए जाते हैं. कुछ लोग कहते हैं कि ग्रीन...

इन सवालों से समझें पूरे गुजरात चुनाव का गणित: क्यों AAP का दिल्ली मॉडल...

0
गाँधीनगर: यदि गुजरात में इस ऐतिहासिक भाजपा जीत के पीछे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नाम के अलावा कोई महत्वपूर्ण कारण है, तो वह है...

Himachal Election Result 2022: अन्य के खाते में आई 3 सीटे, जाने किसने की...

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस ने शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है।कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

हिमाचल से जीतने के बाद कांग्रेस विधायकों की चंडीगढ़ में बैठक, राजस्थान या छत्तीसगढ़...

0
नई दिल्ली: हिमाचल प्रदेश के कांग्रेस विधायक दल की बैठक चंडीगढ़ में होगी। कांग्रेस सूत्रों के मुताबिक पहले यहां चंडीगढ़ में जीते हुए विधायक...

Himachal Election Result 2022: कांग्रेस ने मारी बाजी, जाने हर सीट के नतीजे

0
शिमला: हिमाचल प्रदेश में कांग्रेस शानदार प्रदर्शन करते हुए बीजेपी से आगे निकल गई है। कांग्रेस ने बहुमत का आंकड़ा पार कर लिया है।...

कन्हैयालाल हत्याकांड: चित्तौड़गढ़ से 3 और आरोपी गिरफ्तार, बैकअप प्लान में थे शामिल

जयपुर। राजस्थान के उदयपुर हत्याकांड से पूरा देश स्तब्ध है. जहां पुलिस के हाथों एक बड़ी कामयाबी लगी है. पुलिस ने राजस्थान के चित्तौड़गढ़ से 3 आरोपियों को गिरफ्तार किया है. उदयपुर के दर्जी कन्हैयालाल हत्याकांड की जांच जारी हैं. NIA ने इस मामले में नया खुलासा किया है. बता दें कि एनआईए की पूछताछ में सामने आया कि इस हत्याकांड में रियाज और मोहम्मद गौस के अलावा कुल पांच लोग शामिल थे. टेलर की हत्या को पूरी साजिश के तहत अंजाम दिया गया था. वहीं वारदात के दौरान किसी गड़बड़ी से बचने के लिए एक बैकअप प्लान भी बनाया गया था. जिसमें तीन लोग शामिल थे. हत्या को अंजाम देने से पहले आरोपियों ने मीटिंग भी की थी.

उदयपुर हत्याकांड की जांच कर रही NIA ने इस हत्याकांड के मुख्य आरोपियों मोहम्मद गौस और रियाज के दो साथी मोसिन और आसिफ को गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की. इन दोनों ने NIA की टीम को बताया कि हत्या के बाद मोहम्मद गौस और रियाज को एक सेफ पैसेज देने के लिए बैकअप प्लान भी तैयार था. इस बैकअप प्लान में तीन लोग शामिल थे. प्लान के अनुसाल, मोसिन और उसका साथी आसिफ कन्हैयालाल की दुकान से थोड़ी दूरी पर खड़े थे. वहीं उनका एक अन्य साथी स्कूटी पर नजदीक मौजूद था.

ये थी प्लानिंग

बता दें कि दर्जी की हत्या के बारे में मोसिन और आसिफ ने जांच कर रही टीम को बताया कि इनकी प्लानिंग थी कि, यदि कन्हैयालाल की हत्या के बाद किसी वजह से गौस और रियाज पकड़े जाते हैं. तो उनको वहां से निकालने का काम इन तीनों का था. इनके पास भी खंजर थे और ये भीड़ पर हमला कर के उनको बचाने का प्रयास करते.

कन्हैयालाल की हत्या में शामिल हत्यारे मोहम्मद गौस और रियाज को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है. वहीं इस मामले की जांच कर रही एनआईए की टीम ने उनके दो साथियों मोसिन और आसिफ को भी गिरफ्तार कर लिया है. इन दोनों को आज जयपुर की NIA की विशेष अदालत में पेश किया जाएगा.

क्या है मामला?

बता दें, बीती 28 जून को राजस्थान के उदयपुर में दर्ज़ी कन्हैयालाल की निर्मम हत्या कर दी गई थी. आरोपियों ने इस हत्या को करने से पहले वीडियो बनाया, हत्या करते समय वीडियो बनाया और हत्या को कबूल करते हुए भी एक वीडियो बनाया. जहां हत्यारें इन वीडियोज़ में पीएम नरेंद्र मोदी को भी धमकाते नज़र आए थे. इस हत्याकांड के पीछे कारण बस इतना था कि मृतक कन्हैयालाल के आठ वर्षीय बेटे ने उनके सोशल मीडिया अकाउंट से भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा के खिलाफ पोस्ट कर दिया था

Latest news