चंबा: बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत जो इन दिनों मुंबई में शिवसेना से भिड़ी हुई है उनकी मां आशा रनौत ने बीजेपी का दामन थाम लिया है. आशा रनौत पहले कांग्रेस में थीं लेकिन अब वो कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गई हैं. बीजेपी में शामिल होने के बाद आशा रनौत ने पीएम मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को धन्यवाद कहा है. आशा रनौत ने पिछले दिनों कंगना का ऑफिस गिराए जाने के बाद शिवसेना पर जोरदार हमला बोलते हुए कहा था कि उद्धव ठाकरे आज आपने मेरी बेटी कंगना के ऑफिस पर नहीं, बल्कि अपने पिता बालासाहेब ठाकरे की आत्मा पर घाव किया है.

गौरतलब है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में लगातार महाराष्ट्र की शिवसेना सरकार और महाराष्ट्र पुलिस को निशाने पर ले रही हैं. कंगना सोशल मीडिया पर लगातार महाराष्ट्र सरकार और मुंबई पुलिस के खिलाफ बयान दे रही हैं. इस बाबत शिवसेना सांसद संजय राउत से उनकी सोशल मीडिया पर ही भिडंत भी हो चुकी है जिसके बाद कंगना को वाय प्लस सिक्योरिटी दी गई.

मुंबई को पीओके बताने पर संजय राउत ने उन्हें मुंबई नहीं आने की सलाह दी थी जिसपर कंगना ने कहा था कि वो 9 सितंबर को मुंबई आ रही हैं जिसे जो उखाड़ना है उखाड़ लो. कंगना के मुंबई आने से पहले ही बीएमसी ने उनके दफ्तर में तोड़फोड़ कर दी. बताया गया कि उन्होंने अवैध तरीके से ऑफिस बनाया हुआ है. मामला हाई कोर्ट तक गया लेकिन तबतक कंगना का ऑफिस टूट चुका था. इसके बाद कंगना और भी आक्रामक हो गईं और महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे को सोशल मीडिया पर जमकर भला बुरा कहा जिसे लेकर उनके खिलाफ एफआईआर भी दर्ज हो गई है.

FIR Against Kangana Ranaut: उद्धव ठाकरे से पंगा पड़ा कंगना को पड़ा महंगा, आपत्तिजनक शब्दों का इस्तेमाल करने को लेकर FIR दर्ज, गवर्नर भेजेंगे केंद्र को रिपोर्ट

Kangana Ranaut Office Demolition: बॉम्बे हाईकोर्ट ने कंगना के दफ्तर पर बीएमसी की तोड़फोड़ पर लगाई रोक, याचिका पर जवाब दाखिल करने का दिया आदेश

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर