नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय, जेएनयू कैंपस में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति के साथ छेड़छाड़ के बाद सोशल मीडिया पर लोग भड़क गए हैं. जेएनयू में गुरुवार दोपहर किन्हीं शरारती तत्वों ने स्वामी विवेकानंद की मूर्ति से छेड़छाड़ कर ‘भगवा जलेगा’ लिख दिया. इस मूर्ति का अभी तक अनावरण नहीं हुआ है. हालांकि अभी तक यह साफ नहीं हुआ है कि यह किसकी हरकत है. एनएसयूआई ने विवेकानंद की मूर्ति के साथ छेड़छाड़ की निंदा की है और कहा कि यह हरकत किसी जेएनयू में पढ़ रहे स्टूडेंट की नहीं हो सकती है.

जेएनयू कैंपस में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति के साथ छेड़छाड़ के बाद ट्विटर पर लोगों का गुस्सा फूट रहा है. लोग पोस्ट कर शरारती तत्वों के खिलाफ भड़ास निकाल रहे हैं. आइए देखते हैं कि स्वामी विवेकानंद की मूर्ति से छेड़छाड़ पर सोशल मीडिया की क्या प्रतिक्रिया है-

जेएनयू वालों कम से कम स्वामी विवेकानंद का तो सम्मान करो

आधे क्रांतिकारियों का मानना है कि स्वामी विवेकानंद संघी थे, लेनिन ही भला करें इनका-

किस प्रकार के जेएनयू स्टूडेंट्स ऐसी कायराना हरकत कर रह हैं

शुक्र है कि स्वामी विवेकानंद इस सदी में भारत में पैदा नहीं हुए

जेएनयू वाले 10 रुपये तो दे नहीं सकते और ऐसे बड़े नेता का अनादर कर रहे हैं

सीमा पार नहीं बल्कि देश के अंदर सर्जिकल स्ट्राइक की जरूरत है

जेएनयू वाले यह साबित कर रहे हैं कि वे कितने अनपढ़ गंवार हैं

विवेकानंद की मूर्ति के साथ छेड़छाड़ होना मतलब देश पर हमला होना है, क्योंकि वे भारतीयों के प्रेरणा पुरुष थे

आपको बता दें कि पिछले साल जेएनयू कैंपस में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति स्थापित करने का फैसला लिया गया था. यह मूर्ति प्रशासनिक भवन के पास जवाहरलाल नेहरू की मूर्ति के सामने की ओर स्थापित की जा रही है. हालांकि अभी तक विवेकानंद की मूर्ति का अनावरण नहीं हुआ है. इसे भगवा कपड़े से ढक रखा है. मूर्ति के साथ छेड़छाड़ करने वालों की तलाश जारी है. 

Also Read ये भी पढ़ें-

जेएनयू कैंपस में स्वामी विवेकानंद की मूर्ति के साथ तोड़-फोड़, शरारती तत्वों ने लिखा- भगवा जलेगा

जेएनयू हॉस्टल फीस बढ़ोतरी का फैसला वापस लिया तो सोशल मीडिया बोला- विपक्ष को जेएनयू स्टूडेंट्स से सीखना चाहिए कि विरोध कैसे करें

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App