नई दिल्ली. JIO IUC Top Up Plan Free Outgoing Call Charge रिलायंस जियो के उपभोक्ताओं को एयरटेल या वोडाफोन आयडिया के मोबाइल नंबर पर फोन करने पर अब 6 पैसे प्रति मिनट की दर से इंटरकनेक्ट यूजेज चार्ज का खर्च उठाना पड़ेगा जो अब तक फ्री था. रिलायंस जियो ने बुधवार को Reliance JIO IUC Top Up Plan का ऐलान किया और 10, 20, 50 और 100 रुपए का जियो आईयूसी टॉप अप वाउचर जारी किया है जिसके साथ वाउचर की कीमत के बराबर का डेटा फ्री मिलेगा. रिलायंस जियो ने कहा है कि उसके नेटवर्क पर एयरटेल और वोडाफोन आयडिया के उपभोक्ता हर रोज 25 से 30 करोड़ मिस्ड कॉल मार रहे हैं और बदले में जिओ के यूजर फ्री में फोन कर रहे हैं जिसके बदले में पिछले तीन साल में जियो ने दूसरी टेलॉकीम कंपनियों को 13500 करोड़ रुपए आईयूसी चार्ज का भुगतान किया है. इंटरकनेक्ट यूजेज चार्ज यानी आईयूसी वो शुल्क है जो एक टेलीकॉम कंपनी दूसरी टेलीकॉम कंपनी से उसके यूजर की अपने यूजर से बात कराने के लिए एवज में लेती है. फिलहाल भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकरण यानी टीआरएआई ने आईयूसी चार्ज 6 पैसे प्रति मिनट तय कर रखा है और 1 जनवरी, 2020 से इसे फ्री यानी 0 पैसे करने का ऐलान कर रखा है.

  1. एयरटेल, वोडाफोन आयडिया और जियो में इंटरकनेक्ट यूजेज चार्ज पर झगड़ा के पीछे करोड़ों के मुनाफा-घाटा का दावा
  2. एयरटेल, वोडाफोन आयडिया और जियो में इंटरकनेक्ट यूजेज चार्ज पर झगड़ा के पीछे करोड़ों के मुनाफा-घाटा का दावा
  3. TRAI के 1 जनवरी, 2020 से IUC फ्री के ऐलान के खिलाफ क्यों हैं एयरटेल और वोडाफोन आयडिया, समर्थन में जियो
  4. Reliance JIO IUC Top Up Plan क्या है रिलायंस जियो का आईयूसी टॉल अप प्लान, रिलायंस जियो से एयरटेल, वोडाफोन आयडिया पर फ्री कॉल बंद
  5. Reliance JIO Free Calls ICU Charge: रिलायंस जियो से अब कौन-कौन सा फोन कॉल फ्री

एयरटेल, वोडाफोन आयडिया और जियो में इंटरकनेक्ट यूजेज चार्ज पर झगड़ा के पीछे करोड़ों के मुनाफा-घाटा का दावा

रिलायंस जियो ने 1 जनवरी, 2020 या टीआरएआई की तरफ से आईयूसी चार्ज फ्री होने तक अपने ग्राहकों से एयरटेल, वोडाफोन आयडिया या किसी दूसरी घरेलू सेल्युलर सर्विस प्रोवाइडर कंपनी के नेटवर्क पर फोन करने पर 6 पैसे प्रति मिनट की निर्धारित IUC चार्ज वसूलने का फैसला किया है और इसके लिए टॉप अप वाउचर जारी किए हैं. रिलायंस का कहना है कि एयरटेल या वोडाफोन आयडिया के करीब 35 से 40 करोड़ 2जी यूजर हर रोज रिलायंस जियो के नेटवर्क पर 25 से 30 करोड़ मिस्ड कॉल मारते हैं और उस मिस्ड कॉल के जवाब में जियो यूजर वापस एयरटेल या वोडाफोन आयडिया के नंबर पर पलटकर फ्री कॉल करते हैं जिसकी वजह से उसे तीन साल में 13500 करोड़ रुपया दूसरी कंपनियों को देना पड़ा है. जियो का कहना है कि 25-30 करोड़ मिस्ड कॉल अगर बातचीत में बदल जातीं तो उसे हर रोज 60-70 करोड़ मिनट इनकमिंग कॉल हासिल होता और उसे 6 पैसे प्रति मिनट की दर से जोड़कर देखें तो हर रोज 360 करोड़ के आसपास की कमाई होती. मिस्ड कॉल मारने वाले एयरटेल और वोडाफोन आयडिया ने आउटगोइंग कॉल के दाम 1.50 रुपए मिनट तक कर रखा है जबकि उनके यूजर फ्री में फोन कर रहे हैं जिस वजह से दूसरे नेटवर्क से लोग मिस्ड कॉल मारकर छोड़ दे रहे हैं ताकि जियो यूजर फ्री में फोन करें.

एयरटेल, वोडाफोन आयडिया और जियो में इंटरकनेक्ट यूजेज चार्ज पर झगड़ा के पीछे करोड़ों के मुनाफा-घाटा का दावा

रिलायंस जियो ने 1 जनवरी, 2020 या टीआरएआई की तरफ से आईयूसी चार्ज फ्री होने तक अपने ग्राहकों से एयरटेल, वोडाफोन आयडिया या किसी दूसरी घरेलू सेल्युलर सर्विस प्रोवाइडर कंपनी के नेटवर्क पर फोन करने पर 6 पैसे प्रति मिनट की निर्धारित IUC चार्ज वसूलने का फैसला किया है और इसके लिए टॉप अप वाउचर जारी किए हैं. रिलायंस का कहना है कि एयरटेल या वोडाफोन आयडिया के करीब 35 से 40 करोड़ 2जी यूजर हर रोज रिलायंस जियो के नेटवर्क पर 25 से 30 करोड़ मिस्ड कॉल मारते हैं और उस मिस्ड कॉल के जवाब में जियो यूजर वापस एयरटेल या वोडाफोन आयडिया के नंबर पर पलटकर फ्री कॉल करते हैं जिसकी वजह से उसे तीन साल में 13500 करोड़ रुपया दूसरी कंपनियों को देना पड़ा है. जियो का कहना है कि 25-30 करोड़ मिस्ड कॉल अगर बातचीत में बदल जातीं तो उसे हर रोज 60-70 करोड़ मिनट इनकमिंग कॉल हासिल होता और उसे 6 पैसे प्रति मिनट की दर से जोड़कर देखें तो हर रोज 360 करोड़ के आसपास की कमाई होती. मिस्ड कॉल मारने वाले एयरटेल और वोडाफोन आयडिया ने आउटगोइंग कॉल के दाम 1.50 रुपए मिनट तक कर रखा है जबकि उनके यूजर फ्री में फोन कर रहे हैं जिस वजह से दूसरे नेटवर्क से लोग मिस्ड कॉल मारकर छोड़ दे रहे हैं ताकि जियो यूजर फ्री में फोन करें.

TRAI के 1 जनवरी, 2020 से IUC फ्री के ऐलान के खिलाफ क्यों हैं एयरटेल और वोडाफोन आयडिया, समर्थन में जियो

दूसरी तरफ एयरटेल और वोडाफोन आयडिया की टीआरएआई से मांग है कि आईयूसी चार्ज को 6 पैसे से बढ़ाकर 30 पैसा किया जाए क्योंकि उन्हें इस वजह से 5000 करोड़ तक का घाटा हो रहा है. एयरटेल और वोडाफोन आयडिया 1 जनवरी, 2020 से आईयूसी चार्ज को जीरो करने यानी एक नेटवर्क से दूसरे नेटवर्क पर कॉल को फ्री करने के सख्त खिलाफ हैं और कह रहे हैं कि इससे इनका घाटा 6000 करोड़ तक चला जाएगा. एयरटेल ने इसी घाटे का हवाला देकर दूसरे नेटवर्क पर कॉल के दौरान बजने वाली घंटी की अवधि 40 सेकेंड से घटाकर 25 सेकेंड कर दी है. इससे फोन पर आया कॉल 25 सेकेंड में कट जाता है और वो फिर मिस्ड कॉल बन जाता है. वहीं दूसरी तरफ रिलायंस जियो आईयूसी चार्ज को पूरी तरह खत्म करने के पक्ष में है और बुधवार को जारी बयान में उसने टीआरएआई के सुप्रीम कोर्ट में 2011 के हलफनामे का भी हवाला दिया है जिसमें टेलॉकम रेगुलेटर ने आईयूसी चार्ज को दो साल में धीरे-धीरे कम करते हुए 2014 में खत्म करने की बात कही थी. जियो का कहना है कि आईयूसी चार्ज फ्री होना भारतीय टेलीकॉम यूजर के हित में है और उसके बाद एक कंपनी को दूसरी कंपनी को इस बात के लिए कोई पैसा नहीं देना होगा कि उसके नेटवर्क से किसी ने दूसरे के नेटवर्क पर कॉल किया है.

Reliance JIO IUC Top Up Plan क्या है रिलायंस जियो का आईयूसी टॉल अप प्लान, रिलायंस जियो से एयरटेल, वोडाफोन आयडिया पर फ्री कॉल बंद

रिलायंस जियो ने अपने नेटवर्क पर एयरटेल, वोडाफोन आयडिया या किसी और कंपनी के नेटवर्क से आ रहे मिस्ड कॉल के इनकमिंग कॉल में ना बदलने की वजह अपने फ्री कॉल को माना है. एयरटेल, वोडाफोन आयडिया या दूसरी कंपनियां अपने 2जी यूजर से आउटगोइंग कॉल के पैसे ले रही हैं जबकि जियो के 35 करोड़ ग्राहकों के लिए ये फ्री है. जियो को लगता है कि दूसरे नेटवर्क के यूजर जान-बूझकर जियो वालों को मिस्ड कॉल मारकर छोड़ देते हैं कि उनका पैसा ना लगे और जियो वाला फ्री में रिटर्न कॉल कर ले. जियो ने इस समस्या और इस मिस्ड कॉल की वजह से कमाई में नुकसान की भरपाई करने के लिए आईयूसी टॉप अप प्लान वाउचर लॉंच किया है. 10, 20, 50 और 100 रुपए के इन वाउचर के साथ जियो के यूजर को इतने ही रुपए मूल्य का डेटा फ्री में दिया जाएगा जो सरसरी तौर पर 10 रुपए पर एक जीबी और 100 रुपए पर 10 जीबी है. जियो यूजर को 10 रुपए के टॉप अप वाउचर पर 124 आईयूसी मिनट, 20 रुपए पर 249 आईयूसी मिनट, 50 रुपए पर 656 आईयूसी मिनट और 1000 रुपए के वाउचर पर 1362 आईयूसी मिनट मिलेगा. इस आईयूसी मिनट का इस्तेमाल जियो यूजर एयरटेल, वोडाफोन आयडिया या दूसरे नेटवर्क पर कॉल करने में करेंगे. रिलायंस जियो ने बयान में कहा है कि उसे उम्मीद है कि 31 दिसंबर, 2019 को आईयूसी चार्ज खत्म हो जाएगा और 1 जनवरी, 2020 से किसी को किसी नेटवर्क पर फोन करने के लिए कोई पैसा नहीं देना पड़ेगा.

Reliance JIO Free Calls ICU Charge: रिलायंस जियो से अब कौन-कौन सा फोन कॉल फ्री

रिलायंस जियो ने दूसरे नेटवर्क पर 6 पैसे प्रति मिनट आईयूसी चार्ज की वसूली के लिए टॉप अप वाउचर जारी करते हुए ये भी साफ किया है कि उसके नेटवर्क पर बाकी सारे कॉल पहले की तरह फ्री होंगे. रिलायंस जियो के बयान में स्पष्ट किया गया है रिलायंस जियो के एक नंबर से दूसरे रिलायंस जियो के नंबर पर किए गए सारे कॉल पहले की तरह फ्री रहेंगे. इसके अलावा रिलायंस जियो पर सारे इनकमिंग कॉल फ्री होंगे. जियो फोन से किसी भी लैंडलाइन नंबर पर किया गया कॉल पहले की तरह मुफ्त रहेगा. इसके साथ ही व्टाट्सएप्प, फेसबुक मैसेंजर कॉलिंग, फेसटाइम जैसे एप्प से किया जाने वाला कॉल भी फ्री रहेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App