रांची. झारखंड के पलामू जिले में शादी के लिए रिश्ता देखने आए परिवार को हिंसक भीड़ का शिकार होना पड़ा. तिसिबार गांव में बिहार से लड़की देखने आए परिवार को चोर समझकर मॉब लिंचिंग कर दी. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार गांव वालों ने चोर की अफवाह के चलते परिवार को बंधक बनाया और उन्हें जमकर पीटा जिससे एक शख्स की मौत हो गई और दो लोगों बुरी तरह जख्मी हो गए. जिन्हें अस्पताल में भर्ती करवाया गया है जिनकी हालत काफी नाजुक बताई जा रही है.

यह खबर आग की तरह गांव में फैल गया तब पुलिस ने मौके पहुंच कर भीड़ से लोगों को छुड़ाया और बताया जा रहा है कि पुलिस को हवाई फायरिंग भी करनी पड़ी. जिसके बाद आनन फानन में घायलों को अस्पताल पहुंचाया गया. जहां बबलू मुसहर नाम के एक युवक की मौत हो गई. मीडिया से बातचीत में पलामू पुलिस ने बताया कि उन्हें गुरुवार को खबर मिली की चोर की अशंका के चलते तीन लोगों को बुरी तरह पीटा जा रहा है जिसके बाद हमने तुरंत घटना पर पहुंच कर पीड़ितों को भीड़ के चुंगल से निकाला.

भीड़ के हत्थे चढ़े पीड़ितों को पुलिस ने नजदीक की सदर अस्पताल में भर्ती करवाया. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अगर पुलिस समय पर न पहुंचती और थोड़ी भी लेट होती तो घटना और भी बड़ी हो सकती थी. पुलिस ने आरोपियों की जांच में जुट गई है. आरोपियों की पहचान कर उनके खिलाफ सख्त कानून के तहत कार्रवाई करने का पुलिस ने पीड़ितों को भरोसा दिलवाया है.

हापुड़ लिंचिंग मामला: सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की SIT जांच की मांग, कहा- मेरठ IG करेंगे इन्वेस्टिगेशन

दिल्ली के मुकुंदपुर में मॉब लिंचिंग का शिकार बना नाबालिग, चोरी के शक में पीट-पीटकर मार डाला