नई दिल्ली. उधारदाताओं को उम्मीद है कि पारदर्शी तरीके से कंपनी के उचित मूल्य का निर्धारण करने में बोली प्रक्रिया सफल होने की संभावना है. जेट एयरवेज के ऋणदाताओं ने गुरुवार को कहा कि वे बोली प्रक्रिया के सफल होने को लेकर उम्मीद लगाए हुए हैं. ये बयान कंपनी के पूरी तरह काम बंद होने के बाद आया है.

उधारदाताओं की घोषणा बाजार के खुलने से पहले सुबह हुई. एक बयान में कहा गया, उचित विचार-विमर्श के बाद उधारदाताओं ने फैसला किया कि जेट एयरवेज के अस्तित्व के लिए सबसे अच्छा तरीका है कि संभावित निवेशकों से बोलियां प्राप्त की जाएं, जिन्होंने ईओआई (एक्सप्रेशन ऑफ इंटरेस्ट) व्यक्त किया है और 16 अप्रैल को बोली दस्तावेज जारी किए गए हैं.

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) के नेतृत्व वाले 26 ऋणदाताओं के एक कंसोर्टियम ने कर्ज में फंसी एयरलाइन की 51 प्रतिशत हिस्सेदारी के साथ संभावित सूइटर्स से बोलियां आमंत्रित की हैं. उन्होंने कहा, उधारदाताओं को तर्कसंगत रूप से उम्मीद है कि बोली प्रक्रिया कंपनी के उचित मूल्य को पारदर्शी तरीके से निर्धारित करने में सफल होने की संभावना है.

दरअसल बैंकों ने बुधवार को जेट एयरवेज की तत्काल 400 करोड़ रुपये की मांग को खारिज कर दिया और इसका काम बंद करने पर मजबूर कर दिया. आर्थिक मंदी से गुजर रहे जेट एयरवेज ने बुधवार रात से सभी राष्ट्रीय अंतराष्ट्रीय विमानों की उड़ान सेवा बंद कर दी है. एयरलाइंस ने लेटर के जरिए बताया है कि वो आर्थिक तंगी की वजह से उड़ान सेवा को जारी नहीं रख सकते. जेट एयरवेज 8 हजार करोड़ रूपये के घाटे से गुजर रही है और अब माना जा रहा है एयरलाइंस को जबतक कोई खरीदार नहीं मिलता तबतक उड़ान सेवाएं बंद रहेगी.

Jet Airways All Flights Cancels: जेट एयरवेज की सभी उड़ाने बंद, हवाई किराए में लगी आग, दिल्ली से पटना और मुंबई जैसे शहरों का किराया 15 हजार के पार

Jet Airways Flight Cancel: जेट एयरवेज को बड़ा झटका, 1100 पायलट बोले- नहीं उड़ाएंगे फ्लाइट, सोमवार से परिचालन पर पड़ेगा असर

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App