जम्मू कश्मीर, जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों का एनकाउंटर( Jammu-kashmir terror )  लगातार जारी है. पिछले 15 दिन में 10 बार सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हो चूका हैं जिसमे 15 से ज़्यादा आतंकी मारे गए हैं. सरकार ने परिस्थिति को देखते हुए कई ज़िलों में इंटरनेट सेवा भी बंद की है. शोपिया में बुधवार को आतंकियों और सेना के बीच मुठभेड़ में 3 जवान घायल हुए थे, जिसमें से एक जवान उपचार के दौरान शहीद हो गए. एनकाउंटर में 2 आतंकी मारे गए थे इनमें से एक आतंकी की पहचान आदिल वानी के रूप में हुई है, जो जुलाई 2020 में आतंकी संगठन से जुड़ा था.

TRF का जिला कमांडर था आदिल

आदिल ने पुलवामा हमले में उत्तर प्रदेश के सहारनपुर के रहने वाले मजदूर शाकिर की जान ली थी. आदिल TRF का जिला कमांडर था. इससे पहले भी जम्मू कश्मीर में आतंकियों ने कई लोगो को अपना शिकार बनाया है. लगातार बढ़ती आतंकी गतिविधियों को देखते हुए पुंछ जिले में आतंकियों के खिलाफ सेना ने बड़ा एंटी टेरर अभियान शुरु किया है.इस अभियान के तहत आतंकियों के हर मूवमेंट पर खुफिया एजेंसियों की नजर है. खुफिया एजेंसियों को खबर मिली है कि बौखलाहट में सुरक्षाबलों पर आतंकी ग्रेनेड हमले कर सकते है. आतंकी गतिविधि को देखते हुए अनंतनाग में अलर्ट जारी किया हुआ है.

बढ़ते आतंकी गतिविधि को देखते हुए भारतीय सेना के प्रमुख जनरल एमएम नरवणे जम्मू संभाग के दो दिवसीय दौरे पर है. इस दौरान जनरल नरवणे नियंत्रण रेखा के समीप अग्रिम क्षेत्रों का भी दौरा करेंगे और सेना से मौजूदा स्थिति के बारे में जानकारी हासिल करेंगे। इसके साथ ही गृह मंत्री भी 24 और 25 अक्टूबर को जम्मू कश्मीर के दौरे पर रहेंगे।

यह भी पढ़ें :

Bullet train: रेल मंत्री का बुलेट ट्रेन पर बयान, बुलेट ट्रेन से तेज चलेगा बुलेट प्रोजेक्ट, हर महीने तैयार होंगे 50 पिलर

If You Are Planning to Travel, Then Go To These Places घूमने का बन रहा है प्लान तो जाएं इन जगहों पर