श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में आज जुम्मे की नमाज के बाद अगर स्थिति ठीक रहती है तो सुरक्षा व्यवस्था में थोड़ी ढील दी जा सकती है. घाटी से धारा 144 हटाई जा सकती है. राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने ऑल इंडिया रेडियो, कश्मीर के अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वापस से प्रसारण शुरू कर दिया जाए. राजभवन के एक प्रवक्ता के अनुसार, सरकार घाटी में स्थिति सामान्य करना चाहती है जिससे आम लोगों को ज्यादा दिक्कत न हो. सरकार की एक मात्र चिंता यह है कि घाटी में शांति बनी रहे और लोग उग्र प्रदर्शन न करें. अगर जुम्मे की नमाज के बाद स्थिति सामान्य रहती है तो धारा 144 हटने, सरकारी दफ्तर खुलने समेत कई घोषणाएं हो सकती हैं जिससे आम लोगों को दिक्कतें कम हो जाएंगी.

राज्यपाल भवन के प्रवक्ता ने बताया, “राज्यपाल सत्यपाल मलिन ने गुरुवार शाम को सुरक्षा स्थिति की समीक्षा के बाद सरकारी सचिवालय और अन्य कार्यालयों में कामकाज बहाल करने का निर्देश दिया है”. प्रवक्ता ने बताया कि सरकाज जुमे की नमाज के दौरान हालात पर नजर रखेगी और इसी आधार पर आम लोगों को प्रतिबंध में ढील देने पर विचार किया जाएगा.जम्मू-कश्मीर के प्रधान सचिव रोहित कंसल लगातार मीडिया को हालात के बारे में जानकारी दे रहे हैं. उन्होंने कहा है कि शांति के लिए लगाई गई पाबंदियों में धीरे-धीरे छूट दी जा रही है और सही वक्त आने पर छूट बढ़ाई जाएगी.

जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने आकाशवाणी के अधिकारियों को दिया निर्देश

बता दें कि घाटी में नरेंद्र मोदी सरकार के आर्टिकल 370 के प्रावधानों को हटाने और जम्मू कश्मीर को केंद्रशासित प्रदेश बनाने के फैसले के बाद से ही फोन और इंटरनेट सेवाएं बंद हैं.  ईद क मौके पर बाजार खुले थे. सोमवार से सरकारी दफ्तर, स्कूल, कॉलेज और बाजार खुलने की घोषणा हो सकती है. घाटी में धारा 144 लागू है ऐसे में एक जगह चार से अधिक लोग इकट्ठे नहीं हो सकते. बीते शुक्रवार को एक मीडिया संस्थान ने बड़ी संख्या में कश्मीर में लोगों के विरोध प्रदर्शन में शामिल होने की बात कही थी. हालांकि सरकारी पक्ष ने इन खबरों को निराधार बताया और कहा कि घाटी में पिछले छह दिनों से एक भी गोली नहीं चली है. दूसरी तरफ पाकिस्तान लगातार कश्मीर में ज्यादती की बात उठा रहा है. हालांकि वैश्विक मंच पर पाकिस्तान को कोई भाव नहीं दे रहा है.  उम्मीद है भारत सरकार जल्द कश्मीर में सभी सहूलियतों को जल्द बहाल करने में कामयाब हो जाएगी. 

Pakistan Army soldiers killed in Firing: स्वतंत्रता दिवस पर उरी और राजौरी में गोलीबारी कर पाकिस्तान ने की भारत को उकसाने की कोशिश, खुद के तीन जवानों की खोदनी पड़ी कब्र

Independence Day India Pakistan 2 Nation Theory: पाक पीएम इमरान खान के झूठ का तथ्यात्मक पर्दाफाश, जिन्ना की 2 नेशन थ्योरी और भारत के मुसलमान

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App