श्रीनगर/ लेह. जम्मू-कश्मीर राज्य के विभाजन के बाद नरेंद्र मोदी सरकार ने नया फैसला लेते हुए गिरीश चंद्र मुर्मू को नया उपराज्यपाल बनाया है. वहीं राधाकृष्ण माथुर को लद्दाख केंद्र शासित प्रदेश का उपराज्यपाल नियुक्त किया है. जम्मू-कश्मीर के मौजूदा राज्यपाल सत्यपाल मलिक को गोवा का राज्यपाल नियुक्त किया गया है. जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटने के बाद गिरीशचंद्र मुरमु पहले उपराज्यपाल होंगे. साथ ही पीएस श्रीधरन पिल्लई को मिजोरम का नया राज्यपाल नियुक्त किया गया है. 

अगस्त में जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाकर राज्य का विभाजन कर दिया था. केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बनाए. अब दोनों प्रदेशों में नए उपराज्यपाल नियुक्त किए हैं.

जम्मू-कश्मीर के पहले उपराज्यपाल गिरीश चंद्र मुर्मू 1985 बैच के गुजरात कैडर के आईएएस अधिकारी हैं. जब नरेंद्र मोदी गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब मुर्मू राज्य के प्रधान सचिव थे. मुर्मू पीएम मोदी के करीबी माने जाते हैं. इसलिए जम्मू-कश्मीर में नई शासन व्यवस्था को अमल में लाएंगे.

इसी तरह केंद्र शासित प्रदेश लद्दाख के पहले उपराज्यपाल नियुक्त किए गए राधाकृष्ण माथुर 1977 बैच के रिटायर्ड आईएएस ऑफिसर हैं. माथुर नरेंद्र मोदी सरकार के पहले कार्यकाल दौरान मुख्य सूचना आयुक्त (CIC) के पद पर रहे थे. इससे पहले वे भारत के डिफेंस प्रोडक्शन
सेक्रेटरी के पद पर भी अपनी सेवाएं दे चुके हैं. 

जम्मू-कश्मीर राज्य से आर्टिकल 370 हटाने और विभाजन के बाद इसे केंद्र शासित प्रदेश बनाया गया था. जिस कारण यहां राज्यपाल के बजाय उपराज्यपाल की नियुक्ति होनी थी. जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल रहे सत्यपाल मलिक को गोवा भेज दिया गया है. अब वे गोवा राज्यपाल का कार्यभार संभालेंगे.

वहीं केंद्रशासित प्रदेश होने के चलते गिरीशचंद्र मुर्मू और राधाकृष्ण ठाकुर जम्मू-कश्मीर और लद्दाख में केंद्र सरकार की नीतियों को बखूबी रूप से लागू करने में मदद करेंगे. साथ ही नई शासन व्यवस्था के तहत दोनों प्रदेशों की स्थिति की बेहतरी के लिए कार्य करेंगे.

Also Read ये भी पढ़ें-

खुशखबरी! जम्मू-कश्मीर, लद्दाख के सरकारी कर्मचारियों को भी मिलेगी सातवें वेतन आयोग के अनुसार सैलेरी

 इंडियन आर्मी की पीओके में स्ट्राइक में 18 आतंकियों के मारे जाने की पुष्टि, आतंकी मंसूबों पर भारतीय सेना का तगड़ा अटैक

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App