नई दिल्ली. गुरूवार को मुंबई हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद के रिहा होने के बाद से आतंक के पनाहगार माने जाने वाले पाकिस्तान में जश्न का माहौल है. एक तरफ जहां रिहा होते ही हाफिज ने कश्मीर को आजाद कराने की बातकर जहर उगला है वहीं पाक में मिठाईयां बांटी जा रही हैं. हाफिज के घर पर उसके सैकड़ों समर्थकों ने इक्कठा होकर हाफिज के रिहा होने की खुशियां मनाईं और भारत विरोधी नारे भी लगाए. जमात उत दावा के प्रवक्ता अहमद नदीम ने कहा कि हमें हमारे नेता के आजाद होने की बेहद खुशी है.

बता दें कि इसके अलावा रिहा होते ही हाफिज सईद ने कहा था कि भारत मुझपर आधारहीन आरोप लगाता रहता है. जबकि कोर्ट का फैसला मुझे बेगुनाह साबित करता है. उसने कहा कि कश्मीर की आवाज को दबाने के लिए मुझे 10 महीने के लिए नजरबंद किया गया था.

बता दें कि लाहौर हाईकोर्ट ने नजरबंद किए गए आतंकी हाफिज सईद को बुधवार को रिहा करने का आदेश दिया था. वहीं हाफिज सईद की पाकिस्तान में रिहाई पर भारतीय विदेश मत्रालय ने नाराजगी जताई है. विदेश मंत्रालय प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है कि पाक में हाफिज की एक कुख्यात आतंकी को मुख्य धारा में लाने की कोशिश है. जिसपर संयुक्त राष्ट्र ने भी प्रतिबंध लगा दिया है. रवीश कुमार ने कहा कि इससे साफ होता है कि पाकिस्तान आतंकियों को सजा दिलाने का पक्षधर नहीं है ेऔर अपने यहां आतंकियों को पनाह और सहयोग देता है. ऐसे में साफ है कि आतंक को लेकर पाक का रवैया कभी नहीं बदल सकता.

रिहाई के बाद बोला हाफिज सईद, कश्मीरियों की आजादी के लिए लड़ते रहेंगे

हाफिज सईद की रिहाई पर भारत-अमेरिका ने दर्ज की आपत्ति, फिर हिरासत में लिया जा सकता है आतंकी!

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर