नई दिल्ली. भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान केंद्र (ISRO) का मिशन चंद्रयान 2 अभी खत्म नहीं हुआ है. चंद्रमा के साउथ पोल पर अपने निर्धारित लक्ष्य से 2.1 किलोमीटर पहले विक्रम लैंडर से इसरो कंट्रोल रूम का संपर्क टूट गया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी स्वंय विक्रम की सॉफ्ट लैंडिंग देखने बेंगलुरू के इसरो केंद्र पहुंचे थे. विक्रम से संपर्क टूटने के बाद छाई निराशा अब दूर होती दिख रही है. विक्रम को इसरो ने ढूंढ निकाला है. अब दोबारा उससे संपर्क स्थापित करने की कोशिश की जा रही है. अच्छी बात यह है कि लैंडर विक्रम चंद्रमा की सतह पर है और टूटा नहीं है. तस्वीरों में वह थोड़ा झुका हुआ सा दिख रहा है.

बता दें कि इसरो का चंद्रयान 2 का ऑर्बिटर इसके लूनर ऑर्बिट में मौजूद है. इसके आठ पेलोड्स हैं. यह रमोट सेंसिंग के जरिए एक साल तक चंद्रमा के सतह से 100 किलोमीटर तक की तस्वीरें देता रहेगा. बता दें कि ऑर्बिटर ने ही विक्रम लैंडर की लैंडिंग के बाद की तस्वीरें भेजी थीं. इसरो चीफ के सिवन ने कहा था कि वैज्ञानिक विक्रम से दोबारा संपर्क स्थापित करने की कोशिश कर रहे हैं. विक्रम लैंडर से 14 दिनों तक संपर्क स्थापित करने की कोशिश की जाएगी. बता दें कि लैंडर और रोवर की मिशन लाइफ एक लूनर डे होती है जो धरती पर 14 दिनों के बराबर बैठती है.

इसरो से जुड़े एक सूत्र ने कहा कि अगर सबकुछ सही सलामत है तब ही जाकर संपर्क स्थापित किया जा सकता है. उन्होंने कहा कि विक्रम से संपर्क स्थापित होने की संभावनाएं अभी जीवित हैं लेकिन इसकी कुछ सीमाएं भी हैं. उन्होंने कहा कि विक्रम में पावर आना या न आना कोई मुद्दा नहीं है क्योंकि यह हर तरफ से सोलर पैनल से जुड़ा हुआ है. इसके अंदर इंटरनल बैटरी भी है जिसका ज्यादा इस्तेमाल अभी तक नहीं हुआ है. हमें खोए हुए स्पेसक्राफ्ट रिकवर करने का अनुभव है. हालांकि विक्रम लैंडर चांद की सतह पर औंधा पड़ा हुआ है. ऐसे में सबसे बड़ी चुनौती उसे सीधा करना है. हालांकि विक्रम से दोबारा संपर्क स्थापित करने की कोशिश जारी है और हमें उम्मीद है हम कामयाब होंगे.

ISRO Orbiter Located Chandrayaan 2 Vikram Lander: इसरो को लैंडर विक्रम के बारे में मिली जानकारी, ऑर्बिटर ने विक्रम की थर्मल इमेज ली, लैंडर से संपर्क की कोशिशें जारीं

Pakistan First Woman Astronaut On ISRO Chandrayaan 2: पाकिस्तान की पहली अंतरिक्ष यात्री नमाइरा सलीम ने कहा- इसरो के चंद्रयान 2 की कामयाबी पूरे एशिया के लिए गर्व की बात

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App