पटना. रविवार को बिहार की राजधानी पटना के गांधी मैदान में इमारत शरिया और ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड द्वारा ‘दीन बचाओ-देश बचाओ’ रैली का आयोजन किया गया। इस रैली में लाखों मुस्लिम लोगों ने हिस्सा लिया. इमारत शरिया ने कहा कि इस रैली का मकसद देश में धार्मिक उन्माद की राजनीति को खत्म करना है. साथ ही सभी धर्मों के लोगों के बीच भाईचारे और सौहार्द को मजबूत करना है.

इमारत शरिया के नाजिम अनीसुर रहमान कासमी ने कहा कि यह एक गैर राजनीतिक कार्यक्रम है और आग्रह किया कि इसे राजनीति से जोड़कर न देखा जाए. कार्यक्रम का उद्घाटन अमीर-ए- शरीयत मौलाना मोहम्मद वली रहमानी ने किया. कार्यक्रम का उद्देश्य हिन्दू-मुस्लिम सौहार्द और भाईचारे के खिलाफ खड़ी ताकतों के खिलाफ लोगों को सचेत करना था. रैली में दलितों के प्रति हमदर्दी जताते हुए वक्ताओं ने मुस्लिमों को उनसे दोस्ती करने के लिए प्रेरित किया. वक्ताओं ने केंद्र सरकार को जमकर कोसा और मुल्क की हिफाजत के लिए संघर्ष का एलान किया.

रैली को संबोधित करते हुए इमारत शरिया के नाजिम अनीसुर रहमानी ने कहा कि हमारा मुल्क बुरे दौर से गुजर रहा है. हुकमरान मुल्क में दहशत फैला रहे हैं. ये खौफ के व्यापारी हैं. नफरत की काश्तकारी कर रहे हैं. झूठ को सींचना इनका पेशा है, इन चीजों ने पूरे माहौल में अविश्वास की फिजा बना दी है और हर स्तर पर अविश्वास छा गया है. उन्होंने कहा कि सम्‍मेलन का उद्देश्य हिन्दू-मुस्लिम सौहार्द और भाईचारे के खिलाफ खड़ी ताकतों के खिलाफ लोगों को सचेत करना है. सम्‍मेलन के दौरान सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं.

अंबेडकर जयंती पर केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने दलितों के साथ पांच सितारा होटल में किया डिनर

13 साल की बच्ची को 42 साल के शख्स ने बनाया पत्नी, घर में कैद कर करता था अत्याचार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App