नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश  में भी लगातार कोरोना के मामलों में इजाफा हो रहा है. हर दिन 5 हजार से ऊपर केस मिल रहे हैं. इसी बीच प्रदेश की राजधानी लखनऊ से एक वीडियो वायरल हो रहा है. वायरल हो रहे इस वीडियो में लखनऊ के डीएम अभिषेक प्रकाश कहते नजर आ रहे हैं कि लोग अब सड़कों पर मर रहे हैं. कोरोना का मुकाबला करने की तैयारियों का जायजा लेते हुए डीएम ने यह बात कही. अभिषेक प्रकाश ने ऐसे किसी भी वीडियो से इनकार किया है. बता दें  सोमवार को लखनऊ के दो शमशान घाट में कोरोना संक्रमित 51 लोगों का अंतिम संस्कार किया गया था.  अब सूत्रो से मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश के सीएम योगी अदित्यनाथ ने डीएम के खिलाफ जांच के आदेश दिए हैं.

बता दें कि यूपी की राजधानी लखनऊ, वाराणसी, कानपुर, नोएडा और प्रयागराज समेत कई जिलों में नाइट कर्फ्यू लगाया गया है. इस बीच जहां-जहां नाइट कर्फ्यू लग रहा है, वहां-वहां शिक्षण संस्थान भी बंद किए जा रहे हैं. लखनऊ में कोरोना संक्रमण के चलते डीएम अभिषेक प्रकाश ने 15 अप्रैल तक शैक्षिक संस्थाओं को बंद करने का आदेश दिया था. यह आदेश चिकित्सा, नर्सिंग और पैरा मेडिकल संस्थानों को छोड़कर सभी पर प्रतिबंध लागू रहेगा.

 15 अप्रैल तक बंद रहेगें सभी शैक्षिक संस्थान

यूपी के जिन जिलों में कोरोना के मामले बढ़े हैं, वहां पर सभी समस्त सरकारी, गैर सरकारी अथवा प्राइवेट स्कूल, कॉलेज और कोचिंग सेंटर 15 अप्रैल तक बंद कर दिए गए हैं. हालांकि जिन स्कूलों में परीक्षाएं चल रही हैं, वहां पर कोविड-19 प्रोटोकॉल के तहत छूट दी गई है. लखनऊ विश्वविद्यालय रजिस्ट्रार डॉ विनोद कुमार सिंह ने बताया कि छह अप्रैल से शुरू होने वाली परीक्षाओं को 11 अप्रैल तक ही टाला गया था, लेकिन अब उसके होने पर भी सवाल खड़े हो गया है.

उत्तर प्रदेश पिछले 24 घंटे में कोरोना संक्रमण के 18 हजार मामले. सबसे ज्यादा लखनऊ में 5,382 मरीज . प्रयागराज में 1,856, कानपुर में 1,271 और वाराणसी में कोविड के 1,404 नए केस.

CBSE Exam in Delhi : केंद्र सरकार से सीएम अरविंद केजरीवाल की अपील, CBSE की परीक्षा करें कैंसल ,नहीं तो कोरोना हॉटस्पॉट बन जाएगी दिल्ली

Maharashtra Corona update : महाराष्ट्र के पालघर में एक अस्पताल में एक ही दिन में कोरोना ने ली सात लोगों की जान, रिश्तेदारों ने ऑक्सीजन की आपूर्ति, और लापरवाही का लगाया आरोप