इंदौर, इंदौर स्वर्णबाग अग्निकांड में एक चौकाने वाला खुलासा हुआ है. पुलिस के मुताबिक एकतरफा प्यार ने सात लोगों की जान ले ली. शुभम दीक्षित नाम के युवक ने एक युवती की शादी कहीं और तय हो जाने के आग लगा दी, जिसमें 7 मासूमों की मौत हो गई. दरअसल, युवती जिस बिल्डिंग में रहती थी, युवक ने उसी बिल्डिंग में रखी उसकी गाड़ी को आग लगाई थी, लेकिन आग बिल्डिंग में फैल गई और इसने भयावह रूप ले लिया जिसमें 7 लोग मर गए. आगजनी में घायल युवती फिलहाल अस्पताल में भर्ती है. जबकि आरोपी युवक मौके से फरार है. दरअसल, पहले खबर आई थी कि आग शॉर्ट सर्किट की वजह से लगी है, लेकिन पुलिस ने इस अग्निकांड का खुलासा कर दिया है.

इंदौर की तीन मंजिला इमारत में लगी आग

इंदौर के स्वर्ण बाग कॉलोनी के एक मकान में देर रात भीषण आग लग गई. जिससे झुलस कर 7 लोगों की मौत हो गई और पांच लोग घायल हो गए. आनन फानन में दमकल विभाग को बुलाया गया. घटना की जानकारी मिलते ही फायर ब्रिगेड और विजय नगर थाना पुलिस फौरन मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाकर 9 लोगों को रेस्क्यू कर इलाज के लिए एमवाय अस्पताल दिया. जानकारी के मुताबिक मृतकों में 5 पुरुष और 2 महिला शामिल हैं.

घटना को लेकर यह कहा जा रहा है कि यह आग शॉर्ट सर्किट की वजह से पार्किंग में खड़ी किसी गाड़ी लगी. और फिर धीरे-धीरे इस आग ने भयावह रूप ले लिया. घटना की सूचना मिलते ही इलाके में अफरा-तफरी मच गई. आग पर काबू पाने के लिए आस-पड़ोस के लोगों ने तुरंत फायर ब्रिगेड को सूचना दी. जिसके बाद फायर ब्रिगेड की टीम ने मौके पर पहुंच कर आग पर काबू पाया, जिसके बाद पुलिस ने घटनास्थल को सील कर दिया. इस दौरान इंटेलीजेंस टीम और फोरेंसिक के अफसर भी मौके पर मौजूद रहे. इस बीच विधायक महेंद्र हार्डिया और इंदौर पुलिस कमिश्नर हरिनारायण चारी मिश्रा ने मौके का निरीक्षण किया.

 

एलपीजी: आम लोगों का फिर बिगड़ा बजट, घरेलू रसोई गैस सिलेंडर 50 रूपये हुआ महंगा

 

 

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर