नरोत्तम मिश्रा के बयान पर भड़की कांग्रेस

इंदौर, मध्य प्रदेश : मामला इंदौर के गोविन्द कॉलोनी का है जहाँ एक चूड़ीवाले की स्थानीय लोगों ने बड़ी ही बेरहमी से पिटाई कर दी. पहले चूड़ीवाले से उसका धर्म पूछा गया लेकिन जब उसने नहीं बताया तब उसका आधार कार्ड देखा गया, जिसमे वह मुसलमान पाया गया, जिसके बाद लोगों ने उसकी बेरहमी से पिटाई करनी शुरू कर दी. बता दें कि इस मामले पर चूड़ीवाले और चूड़ीवाले को पीटने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. इस पर गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा का कहना है कि- “युवक अपना धर्म और नाम छिपा कर चूड़ियां बेच रहा था लेकिन विवाद की शुरुआत हाथ पकड़ने पर हुई. इसके बाद जब उसका आधार कार्ड देखा तो उसके धर्म का पता चला. सवाल यह है कि उसने अपना धर्म क्यों छिपाया? सही नाम से घूमे जहां घूमना है, कौन रोक रहा है लेकिन उसनेे ऐसा क्यों किया.” अब गृह मंत्री के इस बयान के बाद कांग्रेस भड़क उठी और उन्होंने शिवराज सरकार का घेराव शुरू कर दिया. कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने शिवराज सरकार पर आरोप लगाया है कि शिवराज सरकार आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई ना करने के लिए पुलिस पर दबाव डाल रही है. गृहमंत्री के बयान पर उन्हें घेरते हुए आरिफ मसूद ने कहा कि, “धर्म बदलकर चूड़ी बेच रहा था तो मैं पूछना चाहता हूं कि क्या अब हमें धर्म की तख्ती गले मे लगाकर व्यापार करना पड़ेगा? गृह मंत्री समाज को यह किस दिशा में लेकर जाना चाहते हैं ?”

सोशल मीडिया पर हो रहा चूड़ीवाले का समर्थन

इस मामले का वीडियो सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है जिसके बाद लोग चूड़ीवाले का समर्थन कर रहे हैं. इस मामले पर चूड़ीवाले का कहना है कि उससे उसके पैसे और फोन छीने गए और जब उसने पुलिस से इन्साफ की गुहार लगाई तब पुलिस ने भी अपने हाथ खड़े कर दिए.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर