नई दिल्ली. वर्षों तक अंग्रेजों द्वारा शासित रहने के बाद, भारत ने आखिरकार 15 अगस्त 1947 को अपनी मेहनत से स्वतंत्रता हासिल की. आधी रात के समय, जब दुनिया सोएगी, तब भारत जीवन और स्वतंत्रता के लिए जाग उठेगा (At the stroke of the midnight hour, when the world sleeps, India will awake to life and freedom) ये शब्द थे जवाहरलाल नेहरू के. उन्होंने स्वतंत्र भारत के पहले प्रधान मंत्री के रूप में 15 अगस्त 1947 की रात को अपने भाषण में ये कहा था. तभी से इस दिन को देश के इतिहास में दर्ज कर दिया गया. इस अवसर को मनाने के लिए, भारतीय राष्ट्रीय ध्वज- तिरंगा को दिल्ली में लाल किले के लाहौरी गेट के ऊपर फहराया जाता है. भारत इस वर्ष अपना 73 वां स्वतंत्रता दिवस मना रहा है, आइए इस दिन के इतिहास पर नजर डालते हैं.

लॉर्ड माउंटबेटन द्वारा दिए गए जनादेश के अनुसार, ब्रिटिश संसद को 30 जून 1948 तक सत्ता ट्रांसफर करने का निर्देश दिया गया था. उसी दौरान लॉर्ड माउंटबेटन ने दावा किया था कि वह यह देखेंगे कि कोई खूनखराबा ना हो. हालांकि, जिस तरह से चीजें सामने आईं, उन्हें गलत साबित करती गईं. बाद में उन्होंने यह कहकर इसे सही ठहराया, जहां भी औपनिवेशिक शासन समाप्त हुआ है, वहां खून-खराबा हुआ है. ये कीमत है, जिसका आप भुगतान करते हैं.

4 जुलाई 1947 को माउंटबेटन के अधिकार सौंपने के बाद, ब्रिटिश हाउस ऑफ कॉमन्स में भारतीय स्वतंत्रता विधेयक पेश किया गया था. यह 15 दिन के अंदर पारित किया गया था और इसी के बाद 15 अगस्त 1947 को भारत में ब्रिटिश शासन का अंत हुआ. इससे भारत और पाकिस्तान के दो अलग-अलग डोमिनियन की स्थापना की गई, जिन्हें ब्रिटिश राष्ट्रमंडल से अलग करने की अनुमति दी गई थी. हर साल इस दिन को भारत में तभी से बहुत धूम-धाम के साथ मनाया जाता है. स्कूल और कॉलेजों में इस दिन को विभिन्न स्किट्स, प्रतियोगिताओं और अन्य कार्यक्रमों का आयोजन करके मनाते हैं. इस दिन देश के महान स्वतंत्रता सैनानियों के कठिन संघर्षों को याद करते हैं और आजादी का जश्न मनाते हैं.

Independence Day 2019 Songs Video: 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के दिन ये देशभक्ति गाने भर देंगे आपकी नसों में जोश, सुनें और देखें स्पेशल बॉलीवुड हिंदी सॉन्ग

Happy Independence Day 2019 Images: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर इन फेसबुक, व्हाट्सबुक इमेज मैसेज से दें 15 अगस्त की शुभकामनाएं

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App