नई दिल्ली: साल 2021 का सबसे बड़ा चुनावी मंच सज चुका है. पूरे जोर-शोर के साथ देश के चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश में विधानसभा चुनाव हो रहे हैं लेकिन देश की नजर लगी है असम और बंगाल विधानसभा चुनाव पर जो दिल्ली की सियासत को सीधा-सीधा प्रभावित करती है. बंगाल और असम में कौन मारेगा बाजी और किसको मिलेगी मात इसका फैसला तो 2 मई को होगा लेकिन इंडिया न्यूज-जन की बात आपको बताएगा कि असम और बंगाल में किसकी हवा चल रही है. इंडिया न्यूज-जन की बात का ओपीनियन पोल आज शाम 6 बजे से लगातार इंडिया न्यूज पर प्रसारित किए जाएंगे

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल की 294 विधानसभा सीटों के लिए आठ चरणों में मतदान होंगे. पहले चरण की वोटिंग 27 मार्च को होगी वहीं आखिरी चरण का मतदान 29 अप्रैल को होगा. वहीं बात करें असम विधानसभा चुनावों की तो असम विधानसभा की कुल 126 सीटों के लिए तीन चरणों में मतदान होगा. पहले चरण की वोटिंग 27 मार्च, दूसरे चरण का मतदान 1 अप्रैल और तीसरे चरण का मतदान 6 अप्रैल को होगा. वोटों की गिनती 2 मई को होगी.

पश्चिम बंगाल के सियासी समीकरण की बात करें तो बंगाल में बीजेपी और ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कांग्रेस के बीच सीधी टक्कर देखने को मिल रही है. ममता बनर्जी के गढ में जिस तरह बीजेपी ने अपनी पकड़ बनानी शुरू की है उसे देखते हुए ये चुनाव और भी दिलचस्प हो गया है. साल 2019 में हुए लोकसभा चुनावों में बीजेपी ने बंगाल की 42 लोकसभा सीटों में से 18 सीटों पर कब्जा किया था.

 असम में विधानसभा की कुल 126 सीटें हैं. यहां पर तीन चरणों में चुनाव होगा। पहले चरण में 27 मार्च को , दूसरे चरण में एक अप्रैल और तीसरे एवं अंतिम चरण में छह अप्रैल को मतदान होगा।  चिकन नेक कहे जाने वाले असम की बात करें तो बीजेपी शासित असम की 126 विधानसभा सीटों पर चुनाव हो रहा है. पिछले विधानसभा चुनावों के रिजल्ट पर गौर करें तो एनडीए को 86, यूपीए को 26 और 13 सीटें एआईयूडीएफ को मिली थी. सीएए-एनआरसी के मुद्दा इस बार असम चुनाव पर क्या असर डालता है ये देखना दिलचस्प होगा.

UP Crime : पत्नी के चरित्र पर था शक तो पति ने पत्नी के प्राइवेट पार्ट को एल्यूमीनियम के तार से सील दिया

Shaheed Diwas 2021: पीएम मोदी ने शहीदी दिवस पर भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को दी श्रद्धांजलि

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर