नई दिल्ली. साल 1993 के मुंबई बम धमाकों के मुख्य आरोपी अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम की सालों से तलाश चल रही है. इसी को लेकर भारत को उम्मीद है कि ब्रिटेन लंदन की एक जेल में बंद 53 वर्षीय पाकिस्तानी नागरिक दाऊद इब्राहिम के करीबी जाबिर सिद्दीक उर्फ मोतीवाला से पूछताछ के अनुरोध को मंजूरी दे सकता है. जाबिर सिद्दीक से पूछताछ में दाऊद को लेकर भारत को कई अहम सबूत मिल सकते हैं. साथ ही दाऊद के देश में चल रहे ड्रग्स और जबरन वसूरी के धंधों को लेकर जरूरी जानकारी हाथ लग सकती है. सिद्दीकी दाऊद का काफी खास गुर्गा कहा जाता है कि इसलिए उम्मीद है कि वह दाऊद के पाकिस्तान में छिपे होने को लेकर भी जानकारी दे सकता है.

दाऊद के करीबी जाबिर सिद्दीक को लेकर भारतीय सुरक्षा एजेंसी ने ब्रिटेन को डोजियर सौंपा है जिसका अंग्रेजी अखबार हिंदुस्तान टाइम्स ने समीक्षा की है. डोजियर में कहा गया है कि जाबिर सिद्दीक दाऊद के उन सहयोगियों में से एक है जो पाकिस्तान के कराची स्थिक इस्लाम बाबा ट्रस्ट का ट्रस्टी है. दाऊद इब्राहिम की पत्नी, बेटा और दो दामाद भी इस्लाम बाबा के ट्रस्टी हैं. भारत जाबिर सिद्दीकी तक पहुंचने के लिए अमेरिकी प्रवर्तन एजेंसियों के साथ भी काम कर रहा है.

वर्तमान में जाबिर जाबिर सिद्दीक लंदन की वैंड्सवर्थ जेल में बंद है. कहा जा रहा है कि सिद्दीक को जल्द ही जबरन वसूली, ड्रग तस्करी, ब्लैकमेल और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों में अमेरिका के हवाले किया जा सकता है. 22 जुलाई को इस मामले में सुनवाई होगी. ऐसा माना जा रहा है कि अगर जाबिर ही ऐसा व्यक्ति है जिससे दाऊद के अफगानिस्तान से ड्रग्स के कारोबार में शामिल होने के सबूत मिल सकते हैं. क्योंकि सिद्दीकी को दाऊद की वित्त, निवेश और शेल कंपनियों का पूरा ज्ञान जिसके जरिए डी-कंपनी का पूरे विश्व में संचालन किया जा रहा है.

Digvijay Singh on Masood Azhar UNSC Global Terrorist: कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने साधा पीएम नरेंद्र मोदी पर निशाना, कहा- पाक पीएम इमरान खान हैं मोदी जी के दोस्त, कैसें करेंगे मसूद अजहर पर कार्रवाई

दाऊद इब्राहिम के बेटे के बाद डॉन छोटा शकील का बेटा बना हाफिज, अंडरवर्ल्ड में मची खलबली

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App