नई दिल्ली. Farm Laws Repeal प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज देश को संबोधित किया और गुरु पर्व के मौके पर तीनों कृषि कानून वापस लेने का ऐलान किया. उनके इस एलान के बाद सियासत तेज हो गई है. इस सिलसिले में कांग्रेस कल यानि शनिवार को पूरे देश में ‘किसान विजय दिवस’, मनाएगी और रैली, कैंडल मार्च का आयोजन करेगी. कांग्रेस के संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल ने सभी राज्य इकाइयों से कहा है कि वो 20 नवंबर को राज्य, जिला और ब्लॉक स्तर पर किसान विजय दिवस मनाते हुए रैलियों और आंदोलन के दौरान जान गंवाने वाले किसानों के सम्मान में कैंडल मार्च का आयोजन करें.

राष्ट्र के नाम संबोधन में पीएम मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने का किया ऐलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज गुरु पर्व के मौके पर राष्ट्र के नाम संबोधन में तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की बात कही थी. उन्होंने कहा कि इस महीने के अंत में शुरू होने जा रहे संसद सत्र में, हम इन तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की संवैधानिक प्रक्रिया को पूरा कर देंगे.

राकेश टिकेत से साधा निशाना

इस फैसले पर किसान नेता राकेश टिकेत ने कहा कि आज सयुंक्त किसान मोर्चा की मीटिंग के बाद ही आंदोलन को लेकर कोई निष्कर्ष निकाला जाएगा। प्रधानमंत्री के ऐलान पर राकेश टिकैत ने कहा कि अगर समझने में एक साल लगा तो देश बर्बाद हो जाएगा. करीब 750 किसान शहीद हो गए. हम लोग 1 साल से आंदोलन कर रहे हैं. देश की राजधानी को घेर कर रखे हुए हैं. ये सरकार के लिए शर्म की बात है.

यह भी पढ़ें:

PM Modi ने किया तीन कृषि कानूनों को वापस लेने का ऐलान, किसानों से की अपील घर लौट जाएं

Railway Board Orders अब ट्रेन में मिलेगा पका भोजन

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर