नई दिल्ली: पुलवामा हमले में शहीद हुए जवानों के खून का बदला भारत पाकिस्तान को पानी की हर बूंद के लिए तरसाकर लेगा. भारत ने तय किया है कि वो अपने हिस्से का पानी पाकिस्तान नहीं जाने देगा. इसके लिए शाहपुर-कांडी नदी पर बांध बनाने का काम शुरू हो चुका है. केंद्रीय मंत्री नितिन गड़करी ने गुरुवार को ही सरकार की इस योजना का एलान किया था और आज उन्होंने ट्वीट कर इस बात की जानकारी भी दे दी. नितिन गडकरी ने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में सरकार ने तय किया है कि भारत अपने हिस्से का पानी पाकिस्तान में नहीं जाने देगा. पूर्वी भारत में बहने वाली नदियों का रूख मोड़ा जाएगा और वो पानी पंजाब और जम्मू-कश्मीर के लोगों को मिलेगा.

दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा कि सरकार ने शाहरपुर-कांडी में रावी नदी पर बांध बनाने का काम भी शुरू कर दिया है. उन्होंने आगे कहा कि यूजेएच प्रोजेक्ट जम्मू-कश्मीर में हमारी जरूरत का पानी जमा करेगा और बाकी पानी दूसरे रावी बांध से होता हुआ बाकी बांधों तक आएगा. जानकारी के मुताबिक तीन नदियों का पानी जो पाकिस्तान जाता था उसे रोका जाएगा और उसकी दिशा बदलकर उसे यमुना नदी की तरफ मोड़ दिया जाएगा.

इससे यमुना नदी का पानी काफी बढ़ जाएगा और पानी की किल्लत खत्म हो जाएगी वहीं दूसरी तरफ तीन नदियों का पानी रुकने से पाकिस्तान में आने वाले दिनों में भीषण जलसंकट का खतरा मंडराने लगा है. अब से कुछ ही दिनों में गर्मियां शुरू होने वाली है और ऐसे में भारत का पानी बंद करना पाकिस्तान के लिए मुसीबत खड़ी कर सकता है.

India Choke Pakistan Water Supply: पुलवामा हमले के बाद बूंद-बूंद पानी को तरसेगा पाकिस्तान, तीन नदियों का रास्ता मोड़ने की तैयारी में भारत

Pulwama Terror Attack: पाकिस्तान के रेल मंत्री ने दी भारत को युद्ध की धमकी, कहा- बुरी नजर से देखा तो तुम्हारे मंदिरों में घंटियां बजाने वाला भी नहीं बचेगा