India-China Border Row

नई दिल्ली. India-China Border Row भारत और चीन के बीच LAC गतिरोध को खत्म करने के लिए 12 जनवरी को दोनों देशो के सेना के टॉप अधिकारियो के साथ 14वें दौर की वार्ता करने के लिए सहमति बन गई है. भारत इस दौरान हॉट-स्प्रिंग से सेना को पीछे करने के लिए अपनी बात चीन के सामने रखेगा। भारत की ओर से चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी को 2 प्रस्ताव भेजे गए थे, जिसका जवाब चीन की ओर से लम्बे वक़्त तक नहीं आया था.

बेनतीजा रही थी 13वें दौर की बातचीत

दरअसल, अबतक भारतीय सेना चीन के साथ 13 बार LAC गतिरोध को लेकर वार्ता कर चुकी है. भारत की ओर से अक्टूबर माह में की गई कोर कमांडर स्तर की सैन्य वार्ता बेनतीजा रही थी. चीन ने भारत के किसी पक्ष पर सहमति नहीं जताई और बैठक को खत्म कर दिया था।

नवंबर में चर्चा जल्द करने पर बनी थी सहमति

बता दें दोनों ही देशो के बीच18 नवंबर को डिजिटल माध्यम से राजनयिक वार्ता में पूर्वी लद्दाख में गतिरोध वाले शेष स्थानों से सेनिको को पीछे करने के लिए 14वें दौर की सैन्य वार्ता को जल्द से जल्द आयोजित करने पर सहमत हुए थे. लेकिन इसके बावजूद भी चीन ने लम्बे वक़्त तक भारत की ओर से भेजे गया प्रस्ताव पर कोई जवाब नहीं दिया था. इससे चीन की मनसा साफ़ तौर पर जाहिर होती और वह जानबूझकर भारत के पक्ष को टाल रहा है.

यह भी पढ़ें :

Corona Update : देश में कोरोना का भयंकर विस्फोट, 24 घंटे में 58,097 नये केस, 534 की मौत

Grandma has Stained the Relationship : दादी ने किया रिश्ते को दागदार, फिरौती के लिए पौत्र को किया अगवा

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर