नई दिल्ली. आयकर विभाग ने गुरुवार को न्यूज वेबसाइट द क्विंट के सह-संस्थापक और नेटवर्क 18 के पूर्व प्रोमोटर राघव बहल के घर और अॉफिस में छापेमारी की. द क्विंट के दफ्तर में भी रेड डाली गई है. अघोषित आय में कथित टैक्स चोरी को लेकर आयकर विभाग ने छापेमारी की है. इस बारे में जब द क्विंट की एडिटर-इन-चीफ ऋतु कपूर से बातचीत करने की कोशिश की गई, लेकिन उनका जवाब आना बाकी है. फिलहाल आयकर विभाग की टीम छापेमारी कर रही है. उन्होंने राघव के अकाउंट अधिकारियों के बयान भी रिकॉर्ड किए हैं.

वहीं एक बयान में राघव बहल ने कहा, ” मैं इस मामले को एडिटर्स गिल्ड के आगे लेकर जाऊंगा. आज सुबह मैं मुंबई में था तो दर्जनों आयकर विभाग के अधिकारी मेरे घर और नोएडा स्थित अॉफिस में ‘सर्वे’ के लिए पहुंचे.” उन्होंने कहा, मैंने फोन पर एक आयकर अफसर से गुजारिश की है कि वे कोई ई-मेल या दस्तावेज न देखें क्योंकि उसमें पत्रकारिता से जुड़ी संवेदनशील और गंभीर सामग्री हो सकती है.  मुझे पूरी उम्मीद है कि एडिटर्स गिल्ड मेरा समर्थन करेगा. मैंने अफसरों से कहा है कि वे अपने फोन से किभी भी चीज की फोटो न लें. मैं दिल्ली लौट रहा हूं.

यहां पढ़ें Income Tax raid on Raghav Bahl Residence Highlights:

Live Blog

आयकर विभाग की छापेमारी पर बोलीं पूनम अग्रवाल

द क्विंट में काम करने वाली असोसिएट एडिटर पूनम अग्रवाल ने कहा कि आयकर अफसर ऋतु कपूर के गैजेट से डेटा की कॉपी बना रहे हैं. उन्होंने मुझसे प्राइवेसी कानून के बारे में पूछा कि क्या वे लोग उनकी निजी और पत्रकारिता से जुड़ी सामग्री को भी कॉपी कर सकते हैं, मैं उस वक्त बाहर खड़ी थी. तभी दो आयकर अफसरों ने उन्हें घऱ के अंदर खींच लिया.

संजय पुगलिया बोले- रेड का नहीं निकलेगा कोई नतीजा

द क्विंट के दफ्तर में छापेमारी पर यह बोले संजय पुगलिया

ईडी, सीबीआई और आयकर विभाग का हो रहा दुरुपयोग:भूषण

वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत भूषण ने कहा, राघव बहल और क्विंट के दफ्तर में सरकार का विरोध करने को लेकर आयकर विभाग के अफसरों ने रेड डाली है. साथ ही इस तरह मीडिया को धमकाया जा रहा है. इसमें कोई शक नहीं. इसे पहले किसी ने ईडी, सीबीआई और आयकर विभाग का एेसा दुरुपयोग नहीं किया.

दिलीप मंडल ने दिया यह बयान

The Quint और Quint Hindi के संपादक Raghav Bahl के घर और दफ्तरों पर इनकम टैक्स की रेड. इनको चार साल से चैनल चलाने का लाइसेंस नहीं दिया. और अब छापा.राघव का एक वीडियो सुनिए. ऐसी ही वजहों से सरकार राघव से नाराज है.

रेड की जानकारी मिलने के बाद राघव बहल ने दिया यह बयान

सरकार पर बरसे शेखर गुप्ता

वहीं वरिष्ठ पत्रकार और इंडियन एक्सप्रेस के पूर्व मुख्य संपादक शेखर गुप्ता ने ट्वीट कर लिखा, द क्विंट के दफ्तर में इनकम टैक्स ने रेड डाली है, जो बेहद चिंताजनक है. आयकर अफसरों को सवाल पूछने का पूरा हक है, लेकिन रेड धमकी जैसी लगती है. अगर यह तर्कसंगत है तो सरकार को तुरंत सफाई देनी चाहिए वरना इसे मीडिया पर निशाने के तौर पर देखा जाएगा.

आशुतोष ने की कड़ी निंदा

इस मामले पर आम आदमी पार्टी के पूर्व नेता आशुतोष ने ट्वीट कर लिखा, ''प्रणॉय रॉय के बाद अब राघव बहल को निशाना बनाया जा रहा है. राघव बेहद विश्वसनीय मीडिया हस्तियों में से एक हैं. अब वह मोदी सरकार की आलोचना करने की कीमत चुका रहे हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App