नई दिल्ली/ देश में कोरोना बेकाबू होता जा रहा है। रोजाना देश में दो लाख से ज्यादा नए मरीज आ रहे है। अस्पतालों में ऑक्सीजन बेड खत्म होते जा रहे है। उर्वरक का उत्पादन और बिक्री करने वाली सहकारी समिति IFFCO ने देश में ऑक्सीजन की कमी को देखते हुए सांसों को बचाने के लिए सराहनीय पहल की है। IFFCO गुजरात के कलोल स्थित अपने कारखाने में 200 क्यूबिक मीटर प्रति घंटे की उत्पादन क्षमता वाला एक ऑक्सीजन प्लांट लगा रहा है. अस्पतालों को मुफ्त में ऑक्सीजन की सप्लाई देगा। इस कारखाने में तैयार होने वाले एक ऑक्सीजन सिलेंडर में 46.7 लीटर ऑक्सीजन होगी।

इफको के प्रवक्ता ने बताया कि इस संबंध में आदेश पहले ही जारी किया जा चुका है। ऑक्सीजन संयंत्रों को चालू होने में आज से कम से कम 15 दिन लगेंगे। एक दल खासतौर से इस परियोजना पर काम कर रहा है। इफको इसे जल्द से जल्द चालू करने की कोशिश करेगी। इफको ने चार ऑक्सीजन संयंत्रों पर लगभग 30 करोड़ रुपये का निवेश किया है।

अवस्‍थी ने ट्वीट कर बताया कि ‘देश को अपनी सेवा देने के लिए इफको प्रतिबद्ध है. हम गुजरात के कलोल यूनिट में 200 क्‍यूबिक मीटर/घंटे की क्षमता से उत्‍पादन के लिए ऑक्‍सीजन प्‍लांट लगा रहे हैं. इफको मुफ्त में इस ऑक्‍सीजन को अस्‍पतालों में देगा. ऑक्‍सीजन का एक सिलेंडर 46.7 लीटर का होगा.’

अवस्थी ने कहा कि अस्पतालों के लिए इफको मुफ्त में सिलेंडर भरेगा। उन्हे अपना खाली सिलेंडर लाना होगा। अगर इफ्फको से सिलेंडर्स लिया जाता है तो उनसे एक सिक्‍योरिटी डिपॉजिट भी ली जाएगी ताकि ऑक्‍सीजन की जमाखोरी न की जा सके।

COVID-19 Vaccine : कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राहत भरी खबर, 1 मई से 18 साल के ऊपर लोगों को लगाया जाएगा वैक्सीन

Lockdown Announcement in Delhi : दिल्ली में लॅाकडाउन लगने से पहले शराब की दुकान पर लगी भीड़, एक महिला ने कहा शराब पीने से नहीं होता कोरोना वीडियो वायरल

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर