नई दिल्ली : बुधवार को भारत की बड़ी उर्वरक कंपनी इफको (नेइंडियन फार्मर्स फर्टिलाइजर कोऑपरेटिव लिमिटेड) ने सोशल मीडिया के माध्यम से यह बताया है कि वो अब दुनिया की शीर्ष सहकारी संस्था बन गई है. पिछले साल दुनिया में इफको ने 125वें स्थान से ओवरऑल टर्नओवर रैंकिंग में 65वां स्थान प्राप्त किया है. वहीं इस साल इफको ने भारत के पाले में एक और बड़ी उपलब्धि दर्ज करा दी है. इसके साथ ही इफको अब दुनिया की शीर्ष 300 सहकारी संस्थाओं के बीच प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद से अधिक कारोबार के अनुपात के आधार पर पहले स्थान पर आ गई है.

इस पर इफको ने कहा कि, ‘इफको राष्ट्र के सकल घरेलू उत्पाद और आर्थिक विकास में महत्वपूर्ण योगदान दे रहा है. अंतरराष्ट्रीय सहकारी गठबंधन (आईसीए) द्वारा प्रकाशित नौवीं वार्षिक विश्व सहकारी मॉनिटर (WCM) रिपोर्ट के अनुसार, यह उद्यम के टर्नोवर और देश की संपत्ति को दर्शाता है.’

इफको ने एक बयान में कहा, ‘इस रिपोर्ट के सातवें संस्करण ने प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के मुकाबले कारोबार के अनुपात के आधार पर इफको को दुनिया की शीर्ष सहकारी कंपनी बताया है. इस रिपोर्ट में प्रति व्यक्ति जीडीपी पर किए गए कारोबार को आधार बनाया गया है’ प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद के अनुपात के आधार पर कारोबार के हिसाब से श्रेणी तय करने का मतलब सहकारी संस्था के कारोबार को उस देश की क्रय शक्ति से संबंधित करना है जहां कंपनी परिचालन करती है.

इसके अलावा इस रिपोर्ट को देखते हुए इफको के एमडी औप सीईओ यूएस आवस्थी ने ट्वीट किया कि, ‘बहुत खुशी की बात है की इफको दुनिया की नं.1 सहकारी संस्था बन गई है. दुनिया की शीर्ष 300 सहकारी संस्थाओं के बीच प्रति व्यक्ति सकल घरेलू उत्पाद से अधिक कारोबार के अनुपात के आधार पर इफको सर्वश्रेष्ठ पर है. आप सभी को बधाई.’

Kisan Andolan Update : किसानों का हल्ला बोल जारी, गणतंत्र दिवस पर दिल्ली में ही निकालेंगे ट्रैक्टर रैली, पुलिस ने दिया KMP एक्सप्रेस-वे का ऑप्शन

Delhi MCD Rules : दिल्ली MCD ने दिए कड़े निर्देश, अब से रेस्टोरेंट में नॉन-वेज सर्व करते हुए बताना होगा ‘हलाल’ या ‘झटका’

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर