रांचीः झारखंड के रांची में ट्रिपल तलाक का एक और मामला सामने आया है. यहां एक हैवान पति ने पहले तो बेरहमी से पत्नी को पीटा, हथौड़ा मारकर उसका एक हाथ तोड़ दिया और फिर उसे तीन तलाक दे दिया. पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पत्नी का आरोप है कि पिछले काफी समय से उसका पति उसके माता-पिता से पैसों की मांग कर रहा था.

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, साल 2012 में नाजिम परवीन का सज्जाद अली से निकाह हुआ था. शादी के 6 महीने तक तो सब ठीक था लेकिन उसके बाद सज्जाद ने परवीन के परिवार वालों से तीन लाख रुपये की मांग कर डाली. साइकिल रिपेयर की छोटी सी दुकान से परिवार का पेट पालने वाले परवीन के पिता ने पैसे देने में असमर्थता जताई. इसके बाद सज्जाद आए दिन परवीन से मारपीट करने लगा. परवीन का आरोप है कि सज्जाद ने उसे कई बार जान से मारने की भी कोशिश की है.

सोमवार रात सज्जाद ने परवीन को कमरे में बंद कर उससे एक बार फिर मारपीट की. उसने रॉड और हथौड़े से परवीन को पीटा. पिटाई में उसका एक हाथ टूट गया. अगले दिन सज्जाद ने उसे तीन तलाक दे दिया. पति की प्रताड़ना से तंग आकर परवीन ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. गंभीर रूप से घायल परवीन को पुलिस ने पहले अस्पताल में भर्ती कराया. पुलिस ने सज्जाद के खिलाफ केस दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है. कांके पुलिस स्टेशन के सब-इंस्पेक्टर चुनुआ ओरोन ने बताया कि आरोपी की एक महिला मित्र रोशनी परवीन भी परवीन को तलाक दिए जाने की वजह हो सकती है.

बताते चलें कि मुस्लिम महिलाओं के हक की बात कहते हुए मोदी सरकार तीन तलाक बिल लेकर आई है. यह बिल लोकसभा से तो पास हो चुका है लेकिन राज्यसभा में अटका हुआ है. कई सत्र के दौरान सरकार ने इसे पेश करने की कोशिश की लेकिन सरकार की सभी कोशिशें अभी नाकाम रही हैं. विपक्षी दल इस बिल में संशोधन की मांग कर रहे हैं. 15 अगस्त को लालकिले की प्राचीर से पीएम नरेंद्र मोदी ने मुस्लिम महिलाओं को भरोसा दिलाते हुए कहा था, ‘मैं मुस्लिम बहनों और बेटियों को भरोसा दिलाता हूं कि उनके अधिकार सुरक्षित होंगे. हमारी सरकार उन्हें सुरक्षित करने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ेगी.’

तीन तलाक बिल पर असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम नरेंद्र मोदी से पूछा- क्या अखलाक और पहलू खान की पत्नी को न्याय मिलेगा?

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App