नई दिल्ली. हरियाणा के मानेसर में स्थित होंडा कंपनी से 1400 कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया गया है. होंडा कंपनी के अधिकारी निकाले गए सभी कर्मचारियों को अस्थाई रूप से कंपनी में काम करने वाले बता रहे है. वहीं होंडा कंपनी से निकाले गए वर्करों का दो दिनों से कंपनी के प्लांट के बाहर प्रदर्शन जारी है. होंडा कंपनी ने 1400 कर्मचारियों को आर्थिक मंदी का हवाला देकर नौकरी से बेदखल कर दिया. कंपनी से अचानक निकाले गए और अब बेरोजगार हुए कर्मचारी आर-पार की लड़ाई के मूड में हैं. कंपनी से निकाले गए वर्करों का 54 घंटों से धरना प्लांट के बाहर जारी है. बीते तीन माह के अंदर होंडा कंपनी ने 2500 से ज्यादा कर्मचारियों को बाहर का रास्ता दिखा दिया है.

कर्मचारी संगठनों की माने तो जब तक उनकी मांगें नहीं मानी जाती है तह तक उनका धरना जारी रहेगा. होंडा कंपनी से निकाले के गए कर्मचारियों का कहना है कि बिना कोई नोटिस दिए ही उन्हें बाहर कर दिया गया है. धरना पर बैठे वर्कर 10 साल से ज्यादा समय से होंडा कंपनी में काम कर रहे थे. कंपनी के बाहर धरना कर रहे लोगों से सुरक्षा के लिए बड़ी संख्या में पुलिस बल कंपनी परिसर में तैनात कर दिया गया है.

होंडा कंपनी से निकाले गए कर्मचारियों का कहना है कि उन्हें कंपनी ने 3 महीने का वेतन रोक कर रखा है. इन कर्मचारियों को कंपनी केवल 14 हजार 200 रूपए ही मासिक मिलते थे. निकाले गए कर्मचारियों ने बताया कि वे लोग करीब 10 साल से होंडा कंपनी में काम कर रहे हैं तो कंपनी को भी हमारे बारे में सोचना चाहिए था. बेरोजगार हुए वर्करों का मांग है कि हर साल के हिसाब से एक लाख रूपए प्रति कर्मचारी को कंपनी को देना चाहिए.

Also Read, ये भी पढ़े- 7th Pay Commission: अब इस राज्य के शिक्षकों को होगा 7वें वेतनमान के अनुसार सैलेरी का भुगतान

Railway Services in Kashmir: अधिकारियों ने बताया- कश्मीर में 11 नवंबर से बहाल होंगी रेलवे सेवा, अनुच्छेद 370 हटने के बाद से थीं बंद

हरियाणा के बावल रेवाड़ी में भी 280 कर्मचारी शिरो की तकनीक इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ( SHIROKI TECHNICO INDIA PVT L.T.D) के बाहर धरना कर रहे हैं. इन कर्मचारियों को भी कंपनी ने बिना को नोटिस दिए ही नौकरी से बाहर का रास्ता दिखा दिया. इसके बाद बेरोजगार हुए 280 कर्मचारियों ने अनिश्चितकालीन धरने पर बैठ गए. इनकी मांग है कि जब तक निकाले गए 280 कर्मचारियों को कंपनी वापस नहीं बुलाती है तब तक धरना प्रर्दशन जारी रहेगा. बेरोजगार हुए कर्मचारियों का कहना है कि जब तक कोर्ट से लिखित में उन्हें जवाब नहीं मिल जाता है तब तक ने लोग शिरो की तकनीक इंडिया प्राइवेट लिमिटेड कंपनी ( SHIROKI TECHNICO INDIA PVT L.T.D) के बाहर धरना जारी रखेंगे.

 

Also Read, ये भी पढ़े-  DRDO CEPTAM Admit Card 2019: डीआरडीओ सीईपीटीएएम-09 एडमिन एंड एलाइड कैडर टियर-1 एग्जाम एडमिट कार्ड जारी, डाउनलोड www.drdo.gov.in

7th Pay Commission: 7वें वेतनमान के तहत इस महीने लाखों केंद्रीय कर्मचारियों को मिलेगा वेतन बढ़ोतरी का तोहफा!

AIIMS Bilaspur Recruitment 2019: एम्स बिलासपुर ने प्रोफेसर समेत अन्य पदों पर निकाली बंपर वैकेंसी, www.pgimer.edu.in पर करें अप्लाई

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App