नई दिल्ली. छठ पूजा ( Chhath Puja 2021 ) का त्यौहार कल से यानी 8 नवम्बर से शुरू हो गया है. इस त्यौहार में साफ़-सफाई का विशेष तौर पर ध्यान रखा जाता है. इस त्यौहार में सूर्य देव को अर्घ्य दिया जाता है. इस त्यौहार में सूर्य देव की उपासना करने से घर धन-धान्य से परिपूर्ण रहता है. महिलाएं संतान प्राप्ति के लिए भी यह व्रत रखती हैं. छठ का व्रत काफी कठिन माना जाता है. यह व्रत तीन दिनों का होता है. ऐसे में, छठ के ख़ास मौके पर कई राज्यों में सार्वजनिक अवकाश ( Holiday declared for Chhath Puja ) की घोषणा की गई है.

इन राज्यों में 10 नवंबर को अवकाश

छठ के महापर्व को देखते हुए कई राज्यों में अवकाश की घोषणा की गई है, उत्तर प्रदेश, बिहार समेत दिल्ली जैसे कई राज्यों में छठ पूजा के दिन अवकाश की घोषणा की गई है. दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने छठ पूजा के महापर्व को देखते हुए 10 नवंबर को सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की है. इसके अलावा, बिहार, उत्तराखंड और झारखंड में भी 10 नवंबर को सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की गई है. आस्था के पर्व छठ पर आमजन की भावनाओं को देखते हुए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने भी 10 नवंबर को सार्वजनिक अवकाश की घोषणा की गई है. हालांकि, जिले में इसका अधिकार डीएम के पास होगा.

बता दें कि आस्था का पर्व छठ 4 दिन का त्यौहार होता है, इसमें पहले दिन नहाय खाय, दूसरे दिन खरना, तीसरे दिन सायंकालीन अर्घ्य और चौथे दिन सूर्योदय का अर्घ्य दिया जाता है. देशभर में इस त्यौहार की अलग ही धूम देखने को मिलती है.

यह भी पढ़ें:

Delhi Regional Security Dialogue over Afghanistan: अफगानिस्तान पर भारत द्वारा बुलाई गई बैठक में चीन-पाकिस्तान नहीं शामिल होंगे

Many women will fast for the first time after marriage: अनेक महिलाएं शादी के बाद पहली बार व्रत रहेंगी

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर