नई दिल्ली: देश में कोरोना के मामले हर रोज लगभग एक लाख के करीब पहुंच रहे हैं. इस दौरान हमारे डॉक्टर और हॉस्पिटल स्टॉफ अपनी जान की बाजी लगाकर लोगों की जान बचाने की कोशिश कर रहे हैं. लेकिन आपको कैसा लगेगा ये जानकर कि दिन-रात घर परिवार बीवी- बच्चों को छोड़कर कोरोना मरीजों की सेवा करने वाले डॉक्टरों को तीन महीने से सैलरी नहीं मिली है? ये घटना कहीं और की नहीं बल्कि भारत की राजधानी दिल्ली की है जहां के डॉक्टरों को 105 दिनों से सैलरी नहीं मिली है. पीपीई किट पहने डॉक्टर की ऐसी ही एक तस्वीर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है जिसमें वो एक कागज पकड़े खड़े हैं जिसपर लिखा है ‘डॉक्टर्स ऑन कोविड ड्यूटी अनपेड डे 105, हिंदूराव हॉस्पिटल, दिल्ली.

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के अंतर्गत आने वाले इस अस्पताल में डॉक्टरों को तमाम कोशिशों के बावजूद तीन महीने से सैलरी नहीं मिली है और वो रोज कोरोना से जंग लड़कर मरीजों को बचा रहे हैं. सवाल ये कि ऐसे समय में जब पूरा देश डॉक्टरों के प्रति कृतज्ञता का भाव रखे हुए है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी डॉक्टरों और स्वास्थ्यकर्मियों के लिए ताली और थाली बजवा रहे हैं, ऐसे में डॉक्टरों के साथ ऐसा व्यवहार क्यों?

दिल्ली नगर निगम में पिछले 15 सालों से बीजेपी का शासन है. ऐसे में सवाल उठना लाजमी है कि आखिर उनके राज में ऐसा क्यों हो रहा है? एक तरफ उनकी पार्टी के सर्वोच्य नेता जनता से मेडिकल कर्मियों के लिए ताली-थाली बजवा रहे हैं दूसरी तरफ डॉक्टरों का परिवार खाली थाली बजाने के लिए क्यों अभिशप्त है? हर रोज मौत से जंग लड़ रहे डॉक्टर और उनके परिवार के साथ ऐसा सलूक क्यों कि जा रहा है?

हिंदूराव अस्पताल के एक डॉक्टर ने इनखबर से एक्सक्लुसिव बातचीत में बताया कि उनकी आखिरी सैलरी जून में आई थी और तब से उन्हें सैलरी नहीं मिली है. उन्होंने बताया कि वो एलजी के पास भी शिकायत कर चुके हैं लेकिन उसके बाद भी कोई स्थाई समाधान नहीं निकल पाया है. उन्होंने ये भी बताया कि हिंदुराव अस्पताल में सैलरी की समस्या नई नहीं है, काफी समय से यहां सैलरी लेट आती है. उन्होंने बताया कि सैलरी की मांग करने पर उनसे कहा जाता है कि हमारी सैलरी केंद्र सरकार से पास होकर एमसीडी तक आती है और फिर वहां से सैलरी रिलीज की जाती है. उनसे कहा जा रहा है कि सेंटर से पैसा नहीं आ रहा है. तीन महीने से सैलरी ना मिलने की वजह से डॉक्टर और अस्पताल का बाकी स्टॉफ काफी परेशान है.

Narendra Modi UNGA speech: संयुक्त राष्ट्र की स्थाई सीट की पीएम मोदी ने फिर उठाई मांग, कहा- कबतक इंतजार करेगा भारत?

Manish Sisodia Hospitalised: कोरोना से जूझ रहे दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया सांस लेने में तकलीफ की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर