लखनऊ. हिंदू समाज पार्टी के अध्यक्ष कमलेश तिवारी की पत्नी ने उनके हत्यारों को फांसी की सजा देने की मांग की है. कमलेश तिवारी के परिवार ने रविवार दोपहर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से उनके आवास पर मुलाकात की. मुलाकात के बाद बाहर निकलीं कमलेश की पत्नी किरण तिवारी ने मीडिया को बताया कि उन्होंने अपने पति को इंसाफ देने और हत्यारों को फांसी की सजा दिलाने की मांग की है. सीएम योगी ने उन्हें हत्यारों को कड़ी से कड़ी सजा दिलाने का आश्वासन दिया. इससे पहले कमलेश तिवारी की पत्नी ने योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए हुए कहा कि उनके पति को लगातार मिल रही धमकियों के बावजूद उनकी सुरक्षा में कमी की गई.

इससे पहले कमलेश तिवारी की पत्नी ने शनिवार को इंडिया न्यूज से बातचीत में बताया था कि उनके पति को आए दिन धमकियां मिलती थीं, उन्हें व्हाट्सएप पर धमकी भरे मैसेज आते थे. इसके बावजूद उन्हें पर्याप्त सुरक्षा नहीं दी गई. पूर्व में उनके साथ 15 सुरक्षाकर्मी थे लेकिन मौजूदा सरकार ने सुरक्षाकर्मियों की संख्या घटाकर 2 कर दी गई. हत्या वाले दिन सुरक्षाकर्मियों ने हत्यारों की चेकिंग नहीं की. हत्यारों ने कमलेश तिवारी के साथ बैठकर चाय-नाश्ता किया. शासन-प्रशासन सबको पता था.

दूसरी तरफ कमलेश तिवारी की मां ने भी कहा कि सीएम योगी आदित्यनाथ उनके बेटे से जलते थे और मरवा दिया. एक चैनल से बातचीत में मृतक कमलेश तिवारी की मां ने शिवकुमार गुप्ता नाम के एक शख्स पर हत्या के आरोप लगाए.

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी और योगी आदित्यनाथ की दाल नहीं गली इसलिए कमलेश तिवारी को मरवा दिया गया. वहीं मृतक के बेटे ने कमलेश तिवारी मर्डर केस की जांच एनआईए से करने की मांग की है.

कमलेश तिवारी हत्याकांड में अब तक पुलिस ने 3 लोगों को गुजरात के सूरत से गिरफ्तार किया है, जबकि दो मुख्य अभियुक्त अभी फरार हैं. इसके अलावा महाराष्ट्र के नागपुर में एटीएस ने छापेमारी कर एक संदिग्ध को भी पकड़ा है, उसका लिंक भी इस हत्याकांड से जोड़कर देखा जा रहा है.

उत्तर प्रदेश पुलिस आईजी ओपी सिंह ने शनिवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि सूरत से पकड़े गए तीन आरोपियों से प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया है कि कमलेळ तिवारी ने 2015 में एक भड़काऊ बयान दिया था, जिससे मुस्लिम समाज की धार्मिक भावनाएं आहत हुई थी. उनकी हत्या इसी बयान का प्रतिशोध माना जा रहा है.

गौरतलब है कि पूर्व में हिंदू महासभा से जुड़े नेता कमलेश तिवारी की शुक्रवार दोपहर उनके कार्यालय में निर्मम हत्या कर दी गई. हत्यारे भगवा वेश में अपने साथ मिठाई के डिब्बे में चाकू और तमंचे छिपाकर लाए थे. हत्यारों ने करीब आधे घंटे तक मृतक के साथ बैठकर चाय पी और बातचीत की. इसके बाद मौका देखकर उन्होंने कमलेश तिवारी के गले में चाकू से वार किये और सिर पर गोली मारकर फरार हो गए.

Also Read ये भी पढ़ें-

कमलेश तिवारी की मां का आरोप- योगी आदित्यनाथ जलते थे मेरे बेटे से, योगी ने मरवा दिया

कमलेश तिवारी के हत्यारे सीसीटीवी पर कैद, साजिश के तहत भगवा पहनकर आए थे मारने

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App