नई दिल्ली. Hindi Diwas 2019: हिंदी भाषा भारत ही नहीं विश्व के कई देशों में बोली जाती है. सितंबर महीने की 14 तारीख को हर साल हिंदी दिवस के रूप में मनाया जाता है. माना जाता है कि हिंदी पूरी दुनिया में तीसरी सबसे ज्यादा बोले जानी वाली भाषा है. आजादी के बाद 14 सितंबर साल 1949 को संविधान सभा में एक मत से हिंदी को भारत की राजभाषा बनाने का फैसला लिया गया था. इसके बाद राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा के अनुरोध पर 1953 से पूरे भारत में 14 सितंबर को ही हर साल हिंदी दिवस के रूप में मनाया जा रहा है.

अंग्रेजों ने करीब 200 सालों तक भारत को अपना गुलाम बनाकर रखा. इस दौरान हिंदी का भी दमन होता गया और हिंदी को पिछड़ेपन की भाषा समझा जाने लगा. 15 अगस्त 1947 को अंग्रेजी हुकूमत से आजादी मिलने के बाद नए राष्ट्र के सामने भाषा को लेकर चुनौती थी. लोगों के मन में सवाल था कि भारत की राजभाषा क्या होगी. इसके बाद काफी विचार विमर्श किया गया और हिंदी को भारत की आधिकारिक भाषा चुना गया. 14 सितंबर 1949 को संविधान सभा ने देवनागरी लिपी में लिखी हिंदी भाषा को भारत की राजभाषा के रूप में चुना.

साल 1950 से ही हिंदी को भारत में संचार की आधिकारिक भाषा के रूप में प्रयोग किया जाता है. हिंदी केंद्र सरकार और राज्य सरकारों के बीच संचार की प्राथमिक भाषा भी है. हालांकि राज्य सरकारों को उनकी अपनी आधिकारिक भाषा चुनने का विकल्प दिया गया, जिसके बाद भारत में हिंदी और अंग्रेजी के साथ 22 अन्य भाषाओं को आधिकारिक भाषाओं का दर्जा संविधान ने दिया है.

हिंद दिवस के दिन देशभर के स्कूल कॉलेजों में रंगारंग कार्यक्रम किए जाते हैं. इस दिन हिंदी के महत्व और इतिहास के बारे में छात्रों व अन्य लोगों को बताया जाता है. छात्र संस्थानों में आयोजित होने वाली विभिन्न प्रतियोगिताओं जैसे- निबंध लेखन, कविता पाठ, वाद-विवाद आदि में बढ़चढ़कर हिस्सा लेते हैं. हिंदी दिवस मनाने के पीछे की वजह यह भी है कि लोग इससे जुड़ा हुआ महसूस करें और याद रखें कि यह हमारी राजभाषा है.

आईए जानते हैं हिंदी भाषा से जुड़े कुछ रोचक तथ्य

  1. हिंदी भारत में सबसे अधिक बोली जाने वाली भाषा है. देश के लगभग 78% लोग हिंदी बोलते और समझते हैं.
  2. हिंदी के बारे में सबसे दिलचस्प तथ्य यह है कि ‘हिंदी’ मूल रूप से एक फारसी भाषा का शब्द है और पहली हिंदी कविता प्रख्यात कवि ‘अमीर खुसरो’ ने लिखी थी.
  3. आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि हिंदी भाषा के इतिहास पर पहला साहित्य एक फ्रांसीसी लेखक ‘ग्रेसिम द तासी’ द्वारा रचा गया था.
  4. 1977 में पहली बार विदेश मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने संयुक्त राष्ट्र महासभा को हिंदी में संबोधित किया.
  5. ‘नमस्ते’ शब्द हिंदी भाषा में सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द है.
  6. हिंदी का पहला वेब पोर्टल साल 2000 में अस्तित्व में आया, तब से हिंदी ने इंटरनेट पर अपनी पहचान बनाना शुरू किया, जिसने अब गति पकड़ ली है.
  7. सर्च इंजन गूगल के अनुसार, इंटरनेट पर हिंदी कंटेंट पिछले कुछ सालों में काफी बढ़ा है.
  8. भारत में हिंदी उन 7 भाषाओं में शामिल है, जिसका प्रयोग वेब एड्रेस बनाने के लिए किया जाता है.

Hindi Diwas 2019: हिंदीवासियों में हिंदी को लेकर इतनी हीन भावना क्यों, क्या आपका स्टैंडर्ड घट जाएगा

September Month 2019 Festival Calendar: इस साल सितंबर 2019 में तीज, गणेश चतुर्थी, पितृ पक्ष, टीचर्स डे समेत इन अहम तारीख और त्योहार का रहेगा जोर, जानें डिटेल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App