नई दिल्ली: हाथरस कांड की पीड़िता का देर रात जबरन अंतिम संस्कार किेए जाने की घटना के बाद से लगातार सवालों में घिरे हाथरस के एसपी प्रवीण कुमार एक और विवाद में घिर गए हैं. पीड़ित परिवार ने एक वीडियो जारी किया है जिसमें एसपी हाथरस कथित तौर पर पीड़ित परिवार को धमका रहे हैं और दवाब डाल हैं. डीएम हाथरस प्रवीण कुमार का एक वीडियो सामने आया है जिसमें डीएम पीड़ित परिवार को धमकी देते दिख रहे हैं. हाथरस के डीएम कह रहे हैं कि मीडिया वाले तो चले जाएंगे, कुछ चले भी गए हैं और बाकी भी चले जाएंगे. पीड़ित परिवार का कहना है कि डीएमस साहब उनको धमकाने आए थे और केस को रफा-दफा करने के लिए दवाब डाल रहे थे.

पीड़िता की भाभी ने डीएम हाथरस पर आरोप लगाते हुए कहा कि डीएम ने उनके ससुर से कहा है कि अगर तुम्हारी बेटी अभी कोरोना से मर जाती तो क्या मुआवजा मिल पाता? इसके आगे उन्होंने परिवार से कहा कि मीडिया वाले तो चले जाएंगे, लेकिन प्रशासन को यहीं रहना है. वीडियो में हाथरस के डीएम प्रवीण कुमार पीड़िता के परिवार से कह रहे हैं कि आप अपनी विश्वसनीयता खत्म मत कीजिए… मीडिया वाले आधे चले गए हैं… कल सुबह आधे निकल जाएंगे… दो-चार बचेंगे कल शाम… हम आपके साथ खड़े हैं… अब आपकी इच्छा है कि आपको बयान बदलना है या नहीं. प्रशासन ने पूरे इलाके को छावनी में तब्दील कर दिया है. पीड़ित के परिवार को घर में नजरबंद कर दिया गया है साथ ही उनके मोबाइल फोन भी छीन लिए गए हैं.

वीडियो में पीड़िता की भाभी कहती हैं कि हमसे बोला गया कि तुम्हारी लड़की अगर कोरोना से मर जाती तो मुआवजा मिल जाता क्या? हमें धमकियां मिल रही हैं. पापा को धमकाया जा रहा है. उस वक्त हालात ऐसे थे कि जो मन में आ रहा था हम लोग बोल रहे थे. अब ये लोग हमें यहां रहने नहीं देंगे. बता दें कि उत्तर प्रदेश सरकार ने पीड़िता के परिवार को 25 लाख रुपये की सहायता राशि देने का ऐलान किया है. यूपी सरकार परिवार के एक सदस्‍य को नौकरी भी देगी. इसके अलावा परिवार को एक घर भी आवंटित किया जाएगा.

Hathras Case Update: हाथरस गई महिला नेता ने यूपी पुलिस पर लगाया ब्लाउज फाड़ने का आरोप, धक्का मुक्की में जमीन पर गिरे सांसद डेरेक ओ ब्रायन

Hathras Rape Case: डीएनडी पर काफिला रोके जाने के बाद पैदल ही हाथरस के लिए निकले राहुल और प्रियंका गांधी

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर