जींद. हरियाणा के जींद में एक नाबालिग लड़की के साथ रेप के बाद इस कदर बर्बरता की गई कि इसे देखने वालों की रूह कांप उठी. लड़की के साथ की गई बर्बरता को देखकर दिल्ली के निर्भया केस की यादें ताजा हो जाती हैं. शुक्रवार को सफिदौन शहर के बुधखेड़ा गांव की नहर से लड़की का शव बरामद किया गया. पुलिस द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, लड़की की पहचान कुरुक्षेत्र के झांसा गांव निवासी के रूप में हुई है. लड़की दलित परिवार से है और वह 9 जनवरी से लापता थी. शव के निचले हिस्से पर एक भी कपड़ा मौजूद नहीं था. लड़की के प्राइवेट पार्ट के साथ दरिंदगी की गई है.

फिलहाल पुलिस ने लड़की के शव को रोहतक के पीजीआईएमएस में पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पीजीआईएमएस में फोरेंसिक डिपार्टमेंट के हेड डॉक्टर एसके ढट्टरवाल ने जानकारी दी कि पीड़िता के चेहरे, उसके मुंह के अंदर काफी गंभीर चोट के निशान पाए गए हैं. लड़की के शव का परीक्षण करने वाले डॉक्टर का कहना है कि ऐसा प्रतीत होता है कि कई लोगों ने मिलकर उसका अपहरण किया. लड़की ने शोर मचाने की कोशिश की लेकिन उसे बुरी तरह से ट्रीट कर रोका गया.

डॉक्टर ने आगे कहा कि इस घटना से पता चलता है कि इस कृत्य को कुंठा के कारण अंजाम दिया गया. पीड़िता के प्राइवेट पार्ट के साथ की गई बर्बरता को देखकर लगता है कि उसकी हत्या करने और नहर में डुबाने के बाद उसे अंजाम दिया गया. यह एक व्यक्ति का काम नहीं है. इस घटना को एक से ज्यादा लोगों ने मिलकर अंजाम दिया है. इस मामले की जांच के लिए दो एसआईटी का गठन किया गया है. घटना को लेकर लोगों में काफी रोष है. हरियाणा के जींद सहित कई शहरों में कैंडल मार्च निकाले जा रहे हैं.

उत्तर प्रदेश के शाहजहाँपुर में 19 साल की लड़की को बंधक बनाकर किया लगातार तीन दिन तक गैंगरेप

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर