नई दिल्ली. कोरोना महामारी के बीच विश्व स्वास्थ्य संगठन ने भारत के स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्ष वर्धन को कार्यकारी बोर्ड के चेयरमैन पद को संभालने की जिम्मेदारी सौंपी है. डब्लूएचओ के 34 सदस्यों वाले बोर्ड में जापान के डॉक्टर हिरोकी नाकातानी की जगह अब डॉक्टर हर्ष वर्धन लेंगे. आधिकारिक जानकारी के अनुसार, डॉक्टर हर्ष वर्धन 22 मई को बोर्ड के चेयरमैन पद संभालेंगे. जिसके बाद डॉ. हर्ष वर्धन के पास भारत के साथ- साथ दूसरे देशों की जिम्मेदारी होगी. हालांकि, यह पूर्णकालिक जिम्मेदारी नहीं होगी लेकिन स्वास्थ्य मंत्री को WHO की कुछ बैठकों में जरूर शामिल होना होगा.

गौरतलब है कि वैश्विक मंच पर भारत के प्रतिनिधित्व के प्रस्ताव पर 194 देशों ने हस्ताक्षर किए. हालांकि, संगठन की ओर से यह फैसला पिछली साल कर लिया गया था कि अगर चेयरमैन भारत की ओर से होगा. अधिकारियों के अनुसार, हर साल यह पद बदलता है और ऐसे में पिछले साल तय हुआ था कि अगला प्रतिनिधित्व भारत करेगा.

आपको बता दें कि बोर्ड की साल में दो बार बैठक होती है जिसमें मुख्य बैठक आमतौर पर जनवरी और दूसरी बैठक मई में होती है. संगठन में कार्यकारी बोर्ड का मुख्य कार्य असेंबली के निर्णयों व पॉलिसी तैयार करने के लिए सलाह देना होता है. तकनीकी रूप से देखें तो स्वास्थ्य क्षेत्र में बेहतर 34 देशों को ही कार्यकारी बोर्ड का सदस्य बनाया जाता है. हालांकि, इस बार कुछ पिछड़े देशों को शामिल किया गया है जिसमें बोट्सवाना, कोलंबिया, घाना, गिनी-बिसाऊ, मेडागास्कर समेत कई देश शामिल हैं.

Priyanka Gandhi Yogi Adityanath Bus Politics: यूपी में बस पॉलिटिक्स, प्रियंका गांधी बोलीं- चाहे अपने बैनर लगवा लें लेकिन कांग्रेस की बसें चलवा दें सीएम योगी आदित्यनाथ

Ministry Of Home Affairs: सभी राज्यों को गृह मंत्रालय के सचिव अजय भल्ला ने लिखा पत्र, कहा- प्रवासी मजदूरों के लिए और चलाई जाएं ट्रेनें

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर