नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी के वरिष्ठ नेता और विधानसभा में नेता विपक्ष हरपाल सिंह चीमा ने पंजाब में कोरोना मामलों की बढ़ती संख्या के बारे में कहा कि सरकार कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए आवश्यक और उचित व्यवस्था करने में विफल रही है। इसीलिए राज्य में कोरोना के कारण होने वाली मौतों में काफी वृद्धि हुई है।

चीमा ने कहा कि उन्हें यह खबर पढ़कर दुख हुआ कि कैप्टन सरकार ने आम आदमी की जान बचाने के लिए उच्च गुणवत्ता की चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने के बजाय 5,000 शव कवर की आपूर्ति के लिए निविदा जारी किए है। सरकार की तरफ से निविदा जारी कर कहा गया कि जितनी जल्दी हो सके शव कवर की आपूर्ति की जाए। उन्होंने कहा कि इस तरह की निविदाओं से पता चलता है कि राज्य सरकार केवल इस महामारी के दौरान चिकित्सा सुविधाओं के नाम पर पंजाब के लोगों के साथ खेल रही है। उन्होंने कहा कि कोरोना से केवल उच्च गुणवत्ता वाले उपचार प्रदान करके ही लोगों का जीवन बचाया जा सकता है।

आप नेता ने कहा कि कोरोना महामारी को पंजाब में आए हुए एक साल से अधिक समय हो चुका है, लेकिन सरकार कोरोना पीड़ितों के इलाज के लिए पर्याप्त चिकित्सा सुविधा और अन्य चिकित्सा उपकरण उपलब्ध कराने में अभी तक विफल रही है। राज्य के कई सरकारी अस्पतालों में इस महामारी के दौरान जरूरत लायक वेंटिलेटर नहीं हैं, जिससे मरीजों की जान बचाई जा सकती थी।

उन्होंने कहा कि कैप्टन अमरिंदर सिंह ने चार साल से अधिक के अपने कार्यकाल में पंजाब में कोई भी उच्च गुणवत्ता वाले अस्पताल स्थापित नहीं किए। अभी मोहाली में एक मेडिकल कॉलेज शुरू करने का दावा किया जा रहा है। लेकिन जिला स्तर के अस्पतालों और प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों में डॉक्टरों, नर्सों और मेडिकल टेक्नीशियनों की भारी कमी है। हरपाल सिंह चीमा ने मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह से अपील की कि वे ठंडी घाटियों को छोड़कर पंजाब के लोगों की जान बचाने का काम करें।

Corona Fake News Alert : सोशल मीडिया और व्हाट्सएप पर प्लाजमा उपलब्ध करवाने वाले नंबर का वायरल सच

UP CM Yogi Adityanath Corona Positive : उत्तर प्रदेश सीएम कोरोना पॅाजिटिव, खुद किया सेल्फ आइसोलेट