नई दिल्ली. गुरुग्राम में एक बार फिर जुम्मे की नमाज को खुली जगहों पर किए जाने को लेकर विवाद खड़ा हो गया. क्षेत्रिये लोगों ने कहा है कि खाली प्लॉटों पर मुस्लिमों के नमाज पढने को लेकर एक बार फिर समस्या खड़ी हो जब बसाई गांव में जुम्मे की नमाज पढ़ रहे एक इमाम को नमाज खत्म होने के बाद पुलिस पकड़कर ले गई. मामले के बारे में बताते हुए इमाम अब्दुल वाजिद ने कहा कि वे पहले ही खाली प्लॉट पर नमाज पढ़ने को लेकर पुलिस से आज्ञा ली थी. उन्होंने कहा कि क्षेत्र के लोग पहले भी ये मुद्दा उठा चुके हैं और वे मालिकों से इजाजत लेकर उनके खाली प्लॉट पर ही नमाज पढ़ते हैं.

वाजिद ने कहा कि उन्होंने हमें वहां से उठाया और कहा कि आपने यहां नमाज पढने की इजाजत नहीं ली है. उन्होंने कहा कि तुम लोग ये सब करके दंगा भड़काओगे. ये कहकर वे मुझे पुलिस की वैन में बैठाकर ले गए. पुलिस के अनुसार शुक्रवार की नमाज पढ़ने को लेकर इस साल विवाद छिड़ने के बाद से जिला प्रशासन ने जगहों की एक सूची तैयार की थी जहां नमाज पढी जा सकती है.

गुरुग्राम पुलिस के पीआरओ सुभाष बोकन ने कहा कि जहां वाजिद नमाज पढ़ रहे थे वह जगह पुलिस की सूची में थी ही नहीं. बोकन ने बताया कि प्लॉट के मालिक और वाजिद दोनों को ही थाने में ले जाकर लिखवाया गया है. जहां प्लॉट के मालिक ने लिखा है कि वह अपने प्लॉट पर नमाज पढने की इजाजत नहीं देता है. जबकि वाजिद से लिखवाया गया है कि वह बिना परमिशन वाले प्लॉट पर नमाज नहीं पढेगा.

यूपी में गो हत्या की सूचना देने वाले दो साधुओं की बेरहमी से हत्या, इलाके में तनाव !

बाबू खान को मिली कांवड़ लाने की सजा, मुस्लिम युवाओं ने पीटकर मस्जिद से भगाया

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App