राजस्थान: डॉन देवा गुर्जर की हत्या के मामले में फरार आरोपी भैरू गुर्जर कई दिनों तक जंगलो में ही रहा था लेकिन सोशल मीडिया से उसको लगातार इस हत्याकांड की अपडेट मिलती रही। जिस वजह से वो पुलिस को चकमा देने में कामयाब होता था. हिस्ट्रीशीटर देवा गुर्जर मर्डर केस का मास्टरमाइंड औैर शातिर अपराधी भैरू गुर्जर को आखिरकार कोटा पुलिस ने धर दबोचा। पुलिस ने आरोपी भैरू गुर्जर को मंडाना इलाके से धरपकड़ा है। आरोपी भैरू गुर्जर इस पूरे मर्डर केस का मास्टर माइंड था और मुख्य आरोपी बाबू गुर्जर का भाई भी है। कोटा जिला पुलिस ने भैरू गुर्जर की अवैध संपत्ति पर कब्ज़ा करने और ध्वस्त करने की भी पूरी तैयारी कर ली थी। भैरू गुर्जर के पकडे़ जाने के बाद इस मामले में पुलिस को भी बड़ी राहत मिली है। वहीं इस हत्याकांड में पुलिस अब तक 25 बदमाशों को गिरफ्तार कर चुकी है।

एक महीने से दे रहा था पुलिस को चकमा

डॉन देवा गुर्जर की हत्या के बाद पुलिस लगातार आरोपियों को पकड़ने में लगी हुई थी। भैरू गुजर्र के बारे में पुलिस को जब तक पता लगता भैरू पुलिस की पकड़ से काफी दूर निकल चुका था। वो लगातार अपने ठिकाने बदल रहा था। भैरू लगातार 1 महीने से पुलिस को चकमा देता रहा।

सोशल मीडिया से मिल रही थी भैरू को हर जानकारी

मास्टरमाइंड भैरू गुर्जर वैसे तो ज्यादा पढ़ा लिखा नहीं है लेकिन शातिर दिमाग के दम पर वो आज तक कई संगीन जुर्म करते आया है। डॉन देवा गुर्जर की हत्या के बाद फरार हुआ भैरू गुर्जर कई दिनों तक जंगलो में ही रहा लेकिन इंटरनेट व सोशल मीडिया से उसको लगातार इस हत्याकांड की नई जानकारी मिलती रही। जिस वजह से वो पुलिस को लगातार चकमा देने में कामयाब होता रहा। लेकिन आखिरकार पुलिस ने अब उसे मंडाना इलाके के जंगलों से पकड़ लिया।

यह भी पढ़े:

गुरुग्राम के मानेसर में भीषण आग, मौके पर दमकल की 35 गाड़ियां

SHARE

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर