जयपुर: दिल्ली- मुंबई रेल मार्ग को रोककर आरक्षण की मांग कर रहे गुर्जरों का आंदोलन आज तीसरे दिन भी जारी है. गुर्जर नौकरी और शिक्षा में पांच फीसदी आरक्षण की मांग कर रहे हैं. बीते शुक्रवार को गुर्जरों ने महापंचायत बुलाई थी जिसके बाद हजारों की संख्या में गुर्जर समाज के लोग मलारना रेलवे स्टेशन जो सवाई माधोपुर स्टेशन के पास है वहां पहुंचने लगे और फिर रेलवे ट्रेक को पूरी तरह जाम कर दिया. गुर्जर समाज के लोग अपने नेता किरोड़ी सिंह बैंसला के नेतृत्व में रेलवे ट्रेक पर बने हुए हैं.  रेल मार्ग रोके जाने से दिल्ली और मुंबई के बीच रेल यातायात पर इस आंदोलन का असर पड़ा है.

रविवार को गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के संयोजक किरोड़ी सिंह बैंसला ने समाचार एजेंसी एएनआई से बात करते हुए कहा कि हम लोग यहां तब तक डटे रहेंगे जब तक हमें पांच फीसदी आरक्षण नहीं मिल जाता है.

इससे पहले किरोड़ी सिंह बैंसला ने शुक्रवार को कहा था कि जैसे सरकार ने आर्थिक तौर पर कमजोर लोगों के लिए 10 फीसदी कोटे का इंतजाम किया वैसे ही हमें नौकरी और शिक्षा में पांच फीसदी आरक्षण चाहिए. अब से सरकार का काम है कि वो हमें ये आरक्षण कहां से लाकर देती है. उन्होंने कहा कि सरकार ना तो हमारे बात सुन रही है और ना ही हमसे बात करने के लिए आ रही है इसलिए हमें ये कदम उठाना पड़ा.

कर्नल किरोड़ी सिंह बैंसला ने कहा कि वो अब टोंक-निवाई रेलवे रूट को ब्लॉक करेंगे और फिर अजमेर-भीलवाड़ा और हादोती-शेखावटी रूट को ब्लॉक करेंगे. रेलवे ने गुर्जर आंदोलन को देखते हुए दिल्ली-मुंबई ट्रैक पर ट्रेनों को रोक दिया है. गुर्जर आंदोलन के मद्देनजर आरएसी की 17 कंपनियों के बुलाया है.

Gujjar Reservation Protest: आरक्षण की मांग को लेकर एक बार फिर गुर्जर आंदोलन शुरू, दिल्ली-मुंबई रेलवे ट्रैक जाम

Upper Caste 10% Reservation: क्या सुप्रीम कोर्ट में टिक पाएगा ऊंची जातियों के गरीब सवर्णों को 10 परसेंट आरक्षण का चुनावी दांव ?

Highlights

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App