सूरत. गुजरात में विधानसभा सीटों के बंटवारे को लेकर घमासान मचा हुआ है. जिस समुदाय के प्रतिनिधियों को टिकट नहीं मिल रहा है वो ही अपना नाराजगी जता रहे हैं. इसी क्रम में सूरत में मुस्लिम समाज के द्वारा कांग्रेस को चेतावनी भरे बैनर लगाए गए हैं. कई जगहों पर कांग्रेस को चेतावनी देते हुए ऐसे बैनर लगाये गये है जिनमें कहा गया है कि यदि गुजरात विधानसभा चुनाव में टिकट आबंटन के दौरान मुस्लिम समुदाय की अनदेखी की गयी तो मुस्लिमों के वोट पार्टी को नहीं मिलेंगे. कांग्रेस के स्थानीय नेता ने कहा कि उन मीडिया रिपोर्टों के मद्देनजर पार्टी के युवा कार्यकर्ताओं ने बैनर लगाये है जिनमें कहा गया था कि यहां एक विधानसभा क्षेत्र से टिकट आवंटन में गुजरात कांग्रेस के मुस्लिमों की अनदेखी किये जाने की संभावना है.

सूरत-पूर्व विधानसभा क्षेत्र में कई स्थानों पर ये बैनर लगाए गए हैं. बता दें कि इस समय यहां से बीजेपी के रंजीत गिलितवाला विधायक हैं. पिछले दो दशकों से अधिक समय से गुजरात की सत्ता से बाहर विपक्षी पार्टी को बैनर में उम्मीदवारों के चयन के दौरान अल्पसंख्यक समुदाय की अनदेखी करने पर वोट नहीं दिये जाने की चेतावनी दी गयी है. कांग्रेस से पूर्व या लिंबायत विधानसभा सीट पर मुस्लिम उम्मीदवार को टिकट देने की मांग की गई थी.

बताया जा रहा है कि इसके लिए मक्काईपुल स्थित कांग्रेस कार्यालय पर प्रदेश कांग्रेस के मंत्री फिरोज मलेक की अगुवाई में बैठक हुई थी. बैठक में तय हुया था कि यदि किसी मुस्लिम को टिकट नहीं दिया गया, तो विरोधस्वरूप बैनर लगाया जाएगा. मुस्लिम को टिकट न दिए जाने से आखिर में उक्त बैनर लगाया गया. लिंबायत पूर्व विधानसभा की दोनों सीटों पर मुस्लिम वोट निर्णायक साबित होते हैं. अब यदि मुस्लिम कांग्रेस के खिलाफ जाते हैं, तो कांग्रेस के लिए वे भारी पड़ेंगे, यह निश्चित है. बता दें कि राज्य में 9 और 14 दिसम्बर को विधानसभा चुनाव होंगे.

गुजरात चुनाव 2017: चुनाव आयोग का फरमान, BJP विज्ञापन में ना करें ‘पप्पू’ शब्द का इस्तेमाल

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App