अमृतसर: अमृतसर में निंरकारी भवन पर हाल ही में आतंकी हमला हुआ. इसमें तीन लोगों की मौत हुई और 20 घायल हुए. मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इसे आतंकी हमला बताया और कहा कि इस हमले की जांच हो रही है. हमले की जांच के दौरान खुलासा किया गया है कि हमला जिस तरह के ग्रेनेड से किया गया वो आमतौर पर पाकिस्तान सेना द्वारा इस्तेमाल किया जाता है.

निरंकारी भवन पर फेंका गया ग्रेनेड एचई-36 सीरीज का था. आमतौर पर इस ग्रेनेड का इस्तेमाल पाकिस्तान सेना करती है. ये हमला रविवार को हुआ. उस समय निरंकारी भवन में धार्मिक कार्यक्रम चल रहा था जब दो बाइकसवारों ने ग्रेनेड से हमला किया.

अमृतसर में हुए इस हमले के बाद दिल्ली के निरंकारी भवन में भी सुरक्षा बढ़ा दी गई. इसके अलावा पंजाब और दिल्ली में सुरक्षा बढ़ाने के साथ-साथ हाई अलर्ट भी जारी कर दिया गया. वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने एक पुलिस हेल्पलाइन जारी की है. इस हेल्पलाइन के जरिए कोई भी हमले में शामिल लोगों की सूचना पुलिस को दे सकता है. 181 पर कॉल करके ये सूचना दी जाएगी. हमलावरों की सूचना देने वाले को सरकार ने 50 लाख रुपए का इनाम देने की भी घोषणा की है. साथ ही सरकार ने कहा है कि हमलावरों की सूचना देने वालों की जानकारी गुप्त रखी जाएगी.

Amritsar Grenade Attack Nirankari Bhavan LIVE Updates: अमृतसर के निरंकारी भवन पर ग्रेनेड अटैक में 3 की मौत, आतंकी साजिश से मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह का इनकार नहीं

PM Modi KMP Expressway: पीएम नरेंद्र मोदी ने किया कुंडली-मानेसर-पलवल एक्सप्रेसवे का उद्धाटन, साथ ही दिए ये नए तोहफे

पुलिस मामले की जांच में जुटी है वहीं गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने इस घटना की निंदा की और कहा कि हमलवारों को कड़ी सजा दी जाएगी. वहीं पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष सुनील जाखड़ ने कहा कि ये माहौल खराब करने वाली घटना है और शांती बनाए रखने के लिए सभी सुरक्षा एजेंसी साथ काम करेंगी.