Tuesday, November 29, 2022

सरकारी समिति ने 7 से 11 साल के बच्चों को Covovax लगाने की सिफारिश की, जल्द हो सकता है फैसला

नई दिल्ली। केंद्रीय औषधि प्राधिकरण की एक विशेषज्ञ समिति ने बच्चों को Covovax (कोवोवैक्स) वैक्सीन लगाई जाने मंजूरी देने की सिफारिश की है. सिफारिश को आखिरी मंजूरी के लिए डीसीजीआई को भेज दिया गया है. यह कोवोवैक्स (Covovax) वैक्सीन 7 साल से 11 साल के बच्चों को लगाई जाएगी. बता दें कि सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) में सरकारी और नियामक मामलों के निदेशक प्रकाश कुमार सिंह ने 16 मार्च को आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण के लिए आवेदन दिया था।

एसआईआई ने  बच्चों को कोवोवैक्स लगाने की सिफारिश की

बता दें कि एक आधिकारिक जानकारी के मुताबिक, ‘केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन (सीडीएससीओ) की कोविड-19 पर एसआईआई के इस आवेदन पर विषय विशेषज्ञ समिति (एसईसी) ने विचार-विमर्श किया और सात से 11 साल के के बच्चों के लिए कोवोवैक्स के लिए आपातकालीन उपयोग प्राधिकरण देने की सिफारिश की।

डीसीजीआई ने 28 दिसंबर को  दी थी मंजूरी

दरअसल, विशेषज्ञ समिति ने अप्रैल में हुई अपनी पिछली बैठक में आवेदन पर पुणे स्थित कंपनी से अधिक जानकारी मांगी थी. डीसीजीआई ने 28 दिसंबर को वयस्कों में आपातकालीन स्थिति में सीमित उपयोग के लिए कोवोवैक्स को मंजूरी दी थी और 9 मार्च को कुछ शर्तों के मुताबिक 12 से 17 साल के उम्र के बच्चों के लिए इसके उपयोग को मंजूरी दी गई थी.

16 जनवरी 2021 टीकाकरण शुरू हुआ

गौरतलब है कि देश में 16 मार्च को 12-14 साल के बच्चों का टीकाकरण (Vaccination) शुरू किया गया था. देशभर में पिछले साल 16 जनवरी को ये टीकाकरण अभियान शुरू किया गया था, जिसमें स्वास्थ्य कर्मियों को पहले चरण में टीका लगाया गया था. अग्रिम पंक्ति के कर्मियों का टीकाकरण पिछले साल दो फरवरी से शुरू हुआ था। बता दें कि देश में लगातार टीकाकरण चल रहा है। अब तक देश में करोड़ो लोगों को टीका लग चुका है। 1 मई, 2021 से 18 वर्ष से अधिक आयु के सभी लोगों को कोविड-19 का टीका लगाना शुरु हुआ था।

India Presidential Election: जानिए राष्ट्रपति चुनाव से जुड़ी ये 5 जरुरी बातें

Latest news