नई दिल्ली: दुनियाभर में निवेश को लेकर फैली अनिश्चितता और कच्चे तेल की कीमतों में लगातार आ रही गिरावट के बीच सोने की कीमत हर दिन आसमान की नई बुलंदियों को छू रही है. इसके पीछे कारण ये है कि निवेशक जमकर सोने में निवेश कर रहे हैं क्योंकि सोना सुरक्षित निवेश माना जाता है. यही वजह है कि सोने और चांदी की अंतराष्ट्रीय कीमतों में जमकर उछाल देखने को मिल रहा है. शुक्रवार को अंतराष्ट्रीय बाजार में 24 कैरेट सोने की कीमत 53844 रुपये प्रति दस ग्राम तक पहुंच गई है जो पिछले दिनों 50 हजार थी. दुनियाभर में फैले कोरोना संकट के बाद से सोने की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि देखने को मिली है.

MCX पर दोपहर 3 बजे अगस्त डिलिवरी वाला गोल्ड 512 रुपये की तेजी के साथ 53650 पर ट्रेड कर रहा है जबकि कारोबार के दौरान यह 53844 रुपये के स्तर तक पहुंच गया था. इससे पहले गुरुवार को सोना 53138 रुपये प्रति दस ग्राम पर बंद हुआ था. आज सुबह यह 53526 के स्तर पर खुला और 53844 के उच्चतम स्तर तक पहुंचा. सोने का न्यूनतम स्तर 53503 रुपये है.

अक्टूबर डिलिवरी वाले गोल्ड में भी 696 रुपये की तेजी देखने को मिल रही है जो फिलहाल 53476 पर ट्रेड कर रहा है. इसके अलावा दिसंबर डिलिवरी वाला गोल्ड 717 रुपये की तेजी के साथ 53645 पर ट्रेड कर रहा है. बाजार के जानकारों का कहना है कि जिस तरह से अमेरिकी डॉलर टूटा है उसके बुलियन के दामों में तेजी आई है. बताया जा रहा है कि अमेरिका की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के बाद लोग सुरक्षित निवेश की तरफ रुख कर रहे हैं जिसकी वजह से सोना मजबूत हो रहा है. बाजार के जानकारों का ये भी मानना है कि दीवाली तक सोना 56 हजार रूपये प्रति दस ग्राम तक जा सकता है और अंतराष्ट्रीय बाजार में सोना 2000 डॉलर के आंकड़े को छू सकता है.

Gold prices in India: सोना और चांदी हुआ पचास हजारी, सर्राफा बाजार में दस ग्राम सोने की कीमत 51,020 तक पहुंची

Gold Bond Scheme: सस्ता सोना खरीदेना का सुनहरा मौका, 4677 रूपये प्रति ग्राम की दर पर गोल्ड बेचेगी मोदी सरकार

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर